भुवनेश्वर: ओडिशा में कोविड-19 से निपटने के लिए तीसरा अस्पताल तैयार किया गया है. प्रदेश की राजधानी भुवनेश्वर में 500 बिस्तरों के अस्पताल को विशेष तौर पर कोरोना संक्रमित लोगों के इलाज के लिए तैयार किया गया है, जिसमें 20 आईसीयू की सुविधा है. मुख्यमंत्री कार्यालय के एक बयान में कहा गया है कि इस अस्पताल का प्रबंधन एसयूएम मेडिकल कॉलेज संभालेगा और इसे महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड (एमसीएल) का सहयोग मिल रहा है. Also Read - Coronavirus: केंद्र सरकार ने शॉपिंग मॉल के लिए जारी की नई गाइडलाइंस, जानें नियम

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अस्पताल के डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों से बातचीत की. उन्होंने इस वैश्विक महामारी के दौरान लोगों की सेवा करने की उनकी प्रतिबद्धता की सराहना की. उन्होंने केंद्रीय मंत्रियों प्रहलाद जोशी और धर्मेंद्र प्रधान को समर्थन देने के लिए धन्यवाद दिया और ओडिशा के लोगों के लिए यह सुविधा मुहैया कराने के लिए एमसीएल को भी धन्यवाद दिया. Also Read - रिकॉर्ड: 24 घंटे में 9 हज़ार से अधिक कोरोना मरीज मिले, संक्रमितों की संख्या 2 लाख 16 हज़ार पार

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में ओडिशा सरकार द्वारा की गई पहल की सराहना की. वहीं जोशी ने एकजुट होकर कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में केंद्र सरकार को पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया. दो अन्य कोविड-19 अस्पतालों को भी भविष्य में आने वाली किसी भी चुनौती को पूरा करने के लिए तैयार रखा गया है. इन दो अस्पतालों में से एक केआईएमएस द्वारा विकसित किया गया है, जिसमें 500 बिस्तरों की सुविधा है. दूसरा अस्पताल 125 बिस्तरों की सुविधा के साथ कटक का अश्विनी अस्पताल है. Also Read - कोरोना: महाराष्ट्र में 24 घंटे में रिकॉर्ड 123 मौतें, संक्रमितों की संख्या 78 हज़ार के करीब, मौत का आंकड़ा 2700 पार