हैदरबाद: तेलंगाना में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,921 नए मरीज सामने आए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 88,396 हो गई. शुक्रवार को एक सरकारी बुलेटिन में 13 अगस्त रात आठ बजे तक के आंकड़े जारी करते हुए बताया गया कि नौ और लोगों की मौत के बाद कुल मृतकों की संख्या 674 हो गई. Also Read - कोरोना से रद्द हो रहे धार्मिक उत्सव, इस देश में लोगों को डर- भगवान रुष्ट, अब बरसेगा प्रकोप!

राज्य में कोरोना वायरस से बेहद प्रभावित ग्रेटर हैदरबाद नगर निगम (जीएचएमसी) में संक्रमण के नए मामलों में कमी हो रही है. यहां 356 नए मरीज सामने आए हैं. जीएचएमसी के बाद मेडचल-मल्काजगिरि में 168, रंगारेड्डी में 134 और संगारेड्डी में 90 मामले सामने आए हैं. Also Read - कार्यस्थल पर कैसे करें कोरोना से सुरक्षा? भारत सरकार ने जारी किए दिशा-निर्देश

नारायणपेट में छह मामले सामने आए हैं और इस जिले को छोड़कर बाकी सभी 32 जिलों में दहाई में नए मामले सामने आए हैं. बुलेटिन के अनुसार राज्य में मृत्यु दर 0.76 फीसदी है. इस संक्रमण से अब तक 64,284 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 23,438 मरीजों का इलाज चल रहा है. Also Read - कोरोना का इतना डर, शिकायत या आवेदन सब पेटी में डालो, कोई नहीं लगाता हाथ...

राज्य में स्वस्थ होने की दर 72.72 फीसदी है जबकि देश में 70.76 फीसदी है. बुलेटिन में बताया गया है कि राज्य में संक्रमण के लक्षण नहीं दिखने वाले मामले 84 फीसदी है. 13 अगस्त को राज्य में 22,406 नमूनों की जांच हुई जबकि अब तक 7,11,196 नमूनों की जांच हो चुकी है.

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के शुक्रवार को 64,553 नए मामले सामने आने के बाद देश में इस वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 24 लाख के पार चली गई जबकि इनमें से 17 लाख से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे के ताजा आंकड़ों के अनुसार, 17,51,555 लोग संक्रमित होने के बाद स्वस्थ हो चुके हैं और लोगों के ठीक होने की दर सुधर कर 71.17 प्रतिशत हो गई है. देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 24,61,190 हो गई है और पिछले 24 घंटे में 1,007 और लोगों की मौत हो जाने के कारण मृतक संख्या बढ़कर 48,040 हो गई है.

मृत्युदर गिरकर 1.95 प्रतिशत रह गई है. देश में इस समय 6.60 लाख संक्रमित लोगों का उपचार चल रहा है. यह संख्या कुल मामलों का 26.88 प्रतिशत है. भारत में सात अगस्त को संक्रमित लोगों की कुल संख्या 20 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी. आईसीएमआर के अनुसार, देश में 2.76 करोड़ से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है, जिनमें से बृहस्पतिवार को एक दिन में सर्वाधिक 8,48,728 नमूनों की जांच की गई.