मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में बुधवार को तबलीगी जमात के तीन सदस्यों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई. मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रवीण चोपड़ा के अनुसार उन्होंने जमात के 27 सदस्यों के नमूने लिए थे जिनमें से तीन वायरस से संक्रमित पाए गए थे. Also Read - महाराष्‍ट्र में कोरोना से आज 85 मौतें के साथ अब तक करीब 2000 मृत, कुल 60 हजार पॉजिटिव केस

उन्होंने कहा कि जमात के सदस्यों को पहले ही पृथक वास में भेज दिया गया था. उन्होंने बताया कि जिले की एक महिला में भी संक्रमित की पुष्टि हुई . वह महिला नोएडा में हैं. उन्होंने कहा कि चार मामले सामने आने के बाद एहतियाती कदम उठाए गए हैं. Also Read - ICC Meeting: टी20 विश्‍व कप 2020 के भविष्‍य को लेकर फैसला 10 जून तक स्‍थगित

बता दें की उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगरा जिले के एएसएन मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज के दौरान कोविड-19 की 76 वर्षीय मरीज की बुधवार को मौत हो गई. जिले में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण से यह पहली मौत है. अब तक आगरा में 65 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. उत्तर प्रदेश में अब तक करीब 400 लोग कोरोना से पीड़ित हैं. आगरा यूपी की उन 15 जगहों में है जिन्हें आज रात 12 बजे से पूरी तरह से सील कर दिया जाएगा. Also Read - दिल्‍ली एम्स में अभी तक 195 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं, 2 की जान गई

वहीं उत्‍तर प्रदेश ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे राज्‍य में मास्‍क पहनना अनिवार्य कर दिया है. यदि इस आदेश का किसी भी व्‍यक्‍ति ने उल्‍लंघन किया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. बुधवार को यूपी सरकार ने 15 जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण के हॉट स्‍पॉट वाले इलाकों में 100 फीसदी लॉकबंदी की घोषणा की है. 15 जिलों के हॉटस्पॉट में 100% लॉकडाउन 15 अप्रैल की सुबह तक रहेगा.