मुंबई : दुनिया भर में सकंट बनकर उभरे कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए देश में 24 मार्च से लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. लेकिन इसके बाद भी देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है. देश में जहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 63 हजार के करीब पहुंच गई है. वहीं 2109 लोगो अब तक इस महामारी से दम तोड़ चुके हैं. बीते 24 घंटों में कोरोना के 3277 नए मामले सामने आए हैं. वहीं 127 लोगों की इन 24 घंटों में जान चली गई और इलाज के बाद कुल 1511 कोरोना मरीज ठीक हुए हैं Also Read - 31 मई के बाद दिल्ली में खुल जाएंगे धार्मिक स्थल और मॉल में दुकानें! दिल्ली सरकार ने दिए संकेत

कोरोना वायरस के कुल मामलों में 41,472 एक्टिव केस हैं, जबकि 19358 मरीज कोरोना को मात देकर अपने-अपने घर वापस जा चुके हैं. लेकिन, जिस तरह से देश में लगातार कोरोना के मामलों में वृद्धि हो रही है, यह सरकार के लिए चिंता का विषय बना हुआ है. कोरोना संक्रमण का सबसे ज्यादा प्रभाव महाराष्ट्र में देखा जा रहा है. जहां अभी तक कोरोना के 20,228 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 779 लोगों की अब तक जान जा चुकी है. Also Read - कोरोना का प्रभाव! वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही में 3.1 प्रतिशत रही देश की जीडीपी

बात की जाए देशभर की तो गुजरात में कोरोना के 7,796 मामले सामने आए हैं. इसके अलाावा मध्य प्रदेश में 3,614, उत्तर प्रदेश में 3,373, तेलंगाना में 1,163, राजस्थान में 3,708, झारखंड में 157, हरियाणा में 675, बिहार में 591, जम्मू कश्मीर में 836, पंजाब में 1,762, केरल में 505, उत्तराखंड में 67 मामले सामने आ चुके हैं.

भारत के अधिकतर राज्य कोरोना की चपेट में हैं. कोरोना की सबसे बड़ी मार महाराष्ट्र झेल रहा है. महाराष्ट्र में अब बीस हजार से अधिक  लोग कोरोना से संक्रमित हैं. महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1100 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र में भी सबसे बुरे हालात मुंबई के हैं. मुंबई में पिछले चौबीस घंटे में 770 नए मामले आए हैं जबकि एक दिन में 27 लोगों ने अपनी जान गंवाई हैं.