तिरुवनंतपुरम: देश के अधिकांश राज्‍यों में जहां कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों और मौतों के आंकड़ों में तेजी देखी जा रही है, वहीं भारत का केरल राज्‍य जहां सबसे पहले संक्रमण के मरीज मिले थे, वहां इस बीमारी पर काफी हद तक नियंत्रण देखा जा रहा है. कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में यह राज्‍य जल्‍द ही कामयाब होते हुए दिख सकता है. Also Read - विदेश से आने वाले भारतीयों को अब 7 दिन रहना होगा क्वारंटाइन, वापस किए जाएंगे बचे हुए पैसे

केरल में बुधवार को सात लोगों की कोविड-19 जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद संक्रमण का एक भी नया मामला सामने नहीं आया। इस समय सिर्फ 30 लोगों का ही उपचार हो रहा है. राज्य में कोई नया संक्रमण प्रभावित क्षेत्र यानी हॉटस्पॉट भी नहीं है. राज्य में अब तक कोविड-19 संक्रमण के कुल 402 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 30 अब भी संक्रमित हैं Also Read - छत्तीसगढ़ में Coronavirus के 15 नए केस, कुल आंकड़ा, 307 लेकिन कोई भी मौत नहीं

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बुधवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि बुधवार को कोट्टायम से चार, इदुक्की से एक और पथनमठित्ता से एक व्यक्ति इजाज के बाद संक्रमणमुक्त हो गया है. उन्होंने बताया कि राज्य में अब तक कोविड-19 संक्रमण के कुल 402 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 30 अब भी संक्रमित हैं. Also Read - बिहार में Coronavirus के 133 नए मामले, बढ़कर कुल 2870 हुए, पढ़े जिलेवार डिटेल

मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में लगभग 14,670 लोग निगरानी में हैं, जिनमें से 268 लोग विभिन्न अस्पतालों में निगरानी में रखा गया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि 14 में से कोझिकोड, एर्नाकुलम, मलप्पुरम और तिरुवनंतपुर में सहित आठ जिलों में संक्रमण का एक भी मामला नहीं है. राज्य में एक भी नया हॉटस्पॉट नहीं पाया गया है.

अब तक कुल 34,500 से अधिक नमूनों की जांच की गई है, जिनमें से 34,063 की जांच रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई.