नई दिल्ली : कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते इन दिनों देश में 21 दिन का लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया है. ताकि, इस महामारी के खतरे को कम किया जा सके. लेकिन, इस बीच बड़े शहरों में काम कर रहे कामगारों में डर का माहौल है. लोग डरे हुए हैं कि वह अपने घर पहुंच पाएंगे या नहीं. वाहन और ट्रेन की सुविधाएं बंद होने के बाद अब लोग पैदल चलकर ही अपने-अपने शहरों के लिए निकल रहे हैं. इस बीच लॉकडाउन के खौफ से अपने घर के लिए निकले 13 लोगों की अलग-अलग हादसों में मौत की खबर सामने आई है. Also Read - Lockdown in Bihar: नहीं रुक रहा कोरोना का प्रसार, बिहार में 16 से 31 जुलाई तक फिर लगेगा लॉकडाउन

मिली जानकारी के मुताबिक, मृतकों में से एक की जहां पैदल चलते हुए मौत हो गई है तो वहीं 12 लोग एक ऐक्सिडेंट का शिकार हो गए. मृतकों में से अधिकतर दिहाड़ी मजदूर थे, जो इन दिनों काम बंद होने के चलते बेरोजगार हो गए हैं. जिसके चलते सैकड़ों-हजारों की संख्या में मजदूर पैदल ही अपने घरों की तरफ चल दिए. इसी दौरान एक शख्स की 200 किलोमीटर पैदल चलने से मौत हो गई. Also Read - बिहार: AIIMS- पटना में कोरोना संक्रमण के चलते 2 डॉक्‍टरों ने तोड़ा दम

वहीं मुंबई (Mumbai) से अहमदाबाद जाने के लिए निकले दिहाड़ी मजदूरों में 4 एक ट्रक की चपेट में आ गए, जिससे उनकी मौत हो गई. इसके अलावा हैदाबाद (Hyderabad) में एक हादसे में 8 लोगों की मौत हो गई. ये लोग कर्नाटक (Karnataka) से लौटकर आ रहे थे, जिनमें एक 3 साल का बच्चा भी शामिल था. ये 23 लोग एक बोलेरो के जरिए कर्नाटक से निकले थे. Also Read - Bengluru Lockdown: आज से लागू होगा टोटल लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या नहीं?