चेन्नई: द्रमुक के अध्यक्ष एम के स्टालिन ने बुधवार को केंद्र सरकार से अपील की कि वह जापान में क्रूज जहाज में ठहरे 100 भारतीयों की सुरक्षित वापसी के लिए हस्तक्षेप करे. ये सभी लोग कोरोना वायरस के चलते लगभग 10 दिन से वहां हैं. इनमें से छह लोग तमिलनाडु के हैं.

‘डायमंड प्रिंसेज’ नामक पानी के जहाज में एक यात्री के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद सभी यात्रियों सहित जहाज को बीते सप्ताह की शुरुआत से योकोहामा में रोककर रखा गया है. राज्य की विधानसभा में नेता विपक्ष स्टालिन ने इस संबंध में विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र लिखा है. उन्होंने पत्र में लिखा कि जहाज में काम करने वाले तमिलनाडु के मदुरै के एक कर्मचारी ने मदद की अपील की है.

स्टालिन ने पत्र में लिखा कि क्रूज जहाज बीते नौ दिन से योकोहामा हार्बर पर ठहरा हुआ है. उसमें फंसे एक कर्मचारी ने व्हाट्सऐप पर अपने दोस्तों को संदेश भेजा है कि इस जहाज में लगभग 100 भारतीय काम करते हैं, जिनमें से छह लोग तमिलनाडु के हैं.