नई दिल्‍ली: केरल में सोमवार को कोरोना वायरस के 28 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. इसके साथ ही राज्‍य में संक्रमितों की संख्‍या 91 पहुंच गई. सोमवार को शाम तक देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्‍या 433 हो गई, जिसमें 23 मरीज स्‍वस्‍थ होकर अस्‍पतालों से जा चुके हैं और मृतकों की संख्‍या अभी तक कुल 8 हो गई है. Also Read - अगर IPL 2020 टूर्नामेंट को आगे नहीं बढ़ाया गया तो यह बहुत बड़ी 'नाकामी' होगी : बटलर

कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्‍या के मामले में केरल के बाद महाराष्‍ट्र में दूसरे नंबर पर 89 मामले हो गए हैं. देश में आज कुल नए 82 मामले दर्ज किए गए हैं. Also Read - Coronavirus Alert: आधे से ज्यादा मरीजों में नहीं दिखते कोरोनावायरस के लक्षण, पर होता है उन्हें संक्रमण, कितना बढ़ा खतरा?

कोरोना वायरस की महामारी के चलते केरल सरकार ने आज रात से लेकर 31 मार्च तक पूरी तरह लॉकडाउन लागू रहने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री पी विजयन ने कहा, ”केरल में सोमवार को कोरोना वायरस के 28 पॉजिटिव मामले रिपोर्ट हुए. इसी के साथ राज्य के अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या 91 हो गई है.”

केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने कहा, लॉकडाउन आज रात से लागू होगा और यह 31 मार्च तक चलेगा. फार्मेसियों के अलावा अन्य सभी दुकानों के समय को सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक प्रतिबंधित किया जाएगा.

देश के दो राज्‍यों और एक केंद्र शासित चंडीगढ़ में
कोरोना वायरस: पंजाब में लोगों ने किया लॉकडाउन का उल्लंघन, सरकार ने लगाया कर्फ्यू चंडीगढ़, 23 मार्च (भाषा) पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोमवार को कर्फ्यू लागू कर दिया. ऐसा बड़ा कदम उठाने वाला देश का यह पहला राज्य है.

कर्फ्यू लागू करने वाला महाराष्‍ट्र दूसरा राज्‍य
देश में बढ़ते Coronavirus Pandemic के मद्देनजर पंजाब के बाद अब पूरे महाराष्‍ट्र में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. सीएम ठाकरे ने कहा, आज मैं पूरे राज्‍य में कर्फ्यू की घोषणा करता हूं. लोग हमको सुन नहीं रहे थे और हम मजबूर हैं. सोमवार आधी रात से पूरे महाराष्ट्र में कर्फ्यू लागू हो जाएगा.

केंद्र शासित चंडीगढ़ में भी कर्फ्यू
पंजाब और हरियाणा की संयुक्‍त राजधानी वाले शहर चंडीगढ़ में भी सोमवार को कर्फ्यू लागू कर दिया गया है.

त्रिपुरा राज्य में पूर्ण तालाबंदी
त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब ने CoronavirusPandemic के मद्देनजर कल दोपहर 2 बजे से 31 मार्च तक राज्य में पूर्ण तालाबंदी की घोषणा की है.

महाराष्ट्र में एक दिन में 15 नए मामले, संख्या बढ़कर 89 हुई
महाराष्ट्र में रोजाना कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले सामने आ रहे हैं. बीते 24 घंटे के दौरान राज्य में 15 लोगों के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 89 हो गई है. 15 नये मामलों में से 11 मामले मुंबई, तीन मामले ठाणे, वसई-विरार और नवी मुंबई जबकि एक मामला पुणे से सामने आया है.

14 में से 9 परिवारों के संक्रमण की चपेट में आए
महाराष्ट्र में जारी बयान में कहा गया है, ‘कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर अब 89 हो गई है. इनमें से 14 मामले मुंबई (महानगर) क्षेत्र से सामने आए हैं. इन 14 में से नौ लोग पहले से ही संक्रमित अपने परिवार के सदस्यों या मित्रों के संपर्क में आने से कोरोना वायरस की चपेट में आए हैं जबकि शेष पांच लोगों ने दुबई, मलेशिया, थाईलैंड, श्रीलंका ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन की यात्रा की थी.’

तमिलनाडु में लॉकडाउन, जिलों की सीमाएं बंद की जाएंगी
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने घोषणा की है कि कोरोना वायरस के प्रसार पर रोक लगाने के लिए राज्य में मंगलवार शाम छह बजे से 31 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा. धारा 144 लागू की जाएगी. मुख्यमंत्री ने विधानसभा में बयान में कहा कि आवश्यक एवं आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर आवागमन के सार्वजनिक एवं निजी साधनों का संचालन नहीं किया जाएगा. आवश्यक वस्तुओं से संबंधित वाहनों को छोड़कर राज्य के भीतर और बाहर परिवहन पर पूरी तरह से रोक है. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे सरकार की पाबंदियों का समर्थन करें ताकि इस महामारी के प्रसार को रोका जा सके. सरकार वर्तमान हालात से प्रभावित परिवारों को राहत देने पर भी विचार कर रही है. महामारी रोग अधिनियम,1897 के तहत राज्य के सभी जिलों की सीमाएं बंद की जाएंगी. सरकारी किफायती ‘अम्मा कैन्टीन’ सामान्य तरीके से चलेंगी.