नई दिल्ली: भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कहा कि गुरुवार सुबह नौ बजे तक देश में कोरोना के कुल 5,00,542 नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है. आईसीएमआर ने कहा कि कुल 4,85,172 व्यक्तियों के परीक्षण किए गए हैं, जिनमें से गुरुवार सुबह तक 21,797 नमूनों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है. Also Read - राहत की बात: COVID-19 वैक्‍सीन Sputnik V की दूसरी खेप कल आएगी भारत

इस बीच, देश में रैपिड टेस्टिंग को रोका गया है. आईसीएमआर ने राज्यों से कहा कि चीनी किट में खामियां हो सकती हैं, इसलिए अभी रैपिड टेस्ट रोके जाएं. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में अब तक कोरोना संक्रमित 681 लोगों की मौत हुई है. पिछले 24 घंटों में नोवेल कोरोनावायरस के 1,400 नए मामले सामने आए हैं. संक्रमण से महाराष्ट्र सबसे अधिक प्रभावित है. इसके अलावा दिल्ली, तमिलनाडु, राजस्थान, मध्य प्रदेश भी वायरस की चपेट में बुरी तरह आ चुके हैं. Also Read - 2 से 18 साल के बच्‍चों पर होगा COVAXIN का ट्रायल, DCGI ने दी मंजूरी

बता दें कि रैपिड टेस्टिंग किट से टेस्टिंग पर देश में फिलहाल दो दिनों के लिए रोक लगा दी गई है. पश्चिम बंगाल सरकार और राजस्थान सरकार ने इस किट को डिफेक्टिव बताया था. राजस्थान सरकार का कहना था कि इस रैपिड टेस्टिंग किट के नजीजे सही नहीं आ रहे हैं. इसके बाद आईसीएमआर ने टेस्टिंग किट पर रोक लगा दी थी. Also Read - गाजीपुर: गंगा नदी में बहते शवों से मचा कोहराम, कोरोना संकट के बीच जिलाधिकारी ने दिए जांच के आदेश