Coronavirus (COVID-19): देश में कोरोना संकट से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्य महाराष्ट्र के बाद उसका पड़ोसी गुजरात भी अब इसी तरह की स्थिति की ओर बढ़ रहा है. गुजरात में पिछले कुछ दिनों में काफी तेजी से कोरोना के मामले बढ़े हैं. पिछले एक सप्ताह में राज्य में कोविड-19 पॉजिटिव मामले तीन गुना बढ़े हैं. 15 अप्रैल को राज्य में कोरोना पॉजिटिव 766 लोग थे जो 22 अप्रैल को बढ़कर 2407 हो गए. Also Read - योगी आदित्यनाथ बोले- अनलॉक 1.0 का मतलब आजादी नहीं है, सार्वजनिक स्थानों पर पांच से अधिक लोग एकत्र ना हों

कोरोना की वजह से गुजरात में मरने वाले लोगों की संख्या भी करीब-करीब तीन गुना बढ़ी है. 15 अप्रैल तक राज्य में 36 लोगों की मौत हुई थी जो 22 अप्रैल को बढ़कर 103 हो गई. यानी एक सप्ताह के भीतर राज्य में कोरोना की वजह से 67 लोगों ने अपनी जान गंवाई. Also Read - Hajj Yatra 2020: आखिर क्यों कैंसिल हुई हज यात्रा, कमेटी वापस करेगी जमा पैसे, जानें क्या है बड़ी वजह

इस समय कोरोना से मौत के मामले में गुजरात, महाराष्ट्र के बाद दूसरे स्थान पर है. महाराष्ट्र में कुल 270 लोगों की मौत हुई है, जो देश के किसी भी राज्य में सबसे ज्यादा है. महाराष्ट्र में अब तक कोरोना पॉजिटिव के 5649 मामले आए हैं. बुधवार को ही यहां 431 नए मामले आए. Also Read - WHO Unbelievable Statement: भारत में कोरोनावायरस के तेजी से बढ़ते मामलों पर WHO ने कही ये बड़ी बात, आप भी रह जाएंगे हैरान

दूसरी तरह गुजरात में बुधवार को 229 नए मामले आए. इसके बाद राजस्थान में 153, उत्तर प्रदेश में 112, दिल्ली में 92, आंध्र प्रदेश में 56, मध्य प्रदेश में 35 और तमिलनाडु में 33 नए मामले सामने आए. बुधवार को पूरे देश में कोरोना के 1273 नए मामले सामने आए. इस तरह देशभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 21248 हो गई है. बुधवार को जो 1273 नए मामले सामने आए उनमें से 1017 मामले केवल पांच राज्यों में पाए गए.