नई दिल्ली: सरकार ने शनिवार को बताया कि देश में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या 96 हो गई है और राज्यों को निर्देश दिए कि आपदा कोष के तहत कोविड-19 की रोकथाम के लिए सामग्रियों की सूची और सहयोग के मानक तैयार करें. कर्नाटक के 76 वर्षीय एक व्यक्ति और दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की कोरोना वायरस से मौत हो गई जिसे डब्ल्यूएचओ ने वैश्विक महामारी घोषित किया है. इस बीमारी से पूरी दुनिया में 5000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. कई राज्यों ने स्कूलों, कॉलेजों, सार्वजनिक संस्थानों और सिनेमा हॉल को बंद करने के आदेश दिए हैं. Also Read - Coronavirus in Mumbai Updates: कोरोना से दहशत में माया नगरी मुंबई, 24 घंटे चार लोगों की गई जान

पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध
जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने किश्तवाड़ और रामबन जिलों में निषेधाज्ञा जारी की है और सार्वजनिक स्थलों पर पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगाया है. गोवा सरकार ने भी जुआ घरों, स्विमिंग पूल और पबों को रविवार की मध्य रात्रि से बंद करने की घोषणा की है. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने एहतियात के तौर पर 22 मार्च तक सभी कक्षाएं बंद कर दी हैं. सभी सम्मेलन, कार्यशालाएं, शैक्षणिक टूर और खेल कार्यक्रम को 31 मार्च तक स्थगित कर दिया गया है जबकि विश्वविद्यालय और स्कूलों में परीक्षाएं तय कार्यक्रम के मुताबिक होंगी. Also Read - COVID-19 Pandemic Relief Fund: राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने पीएम राहत कोष में दी मदद, जानें कितनी है धनराशि

पंजाब में सिनेमा घर बंद
पंजाब सरकार ने कोरोंना वायरस को फैलने से रोकने के लिए अगले आदेश तक सिनेमा घरों को बंद करने के आदेश दिए हैं और लोगों के जमावड़े पर रोक लगा दी है. कोरोना वायरस से दिल्ली में जिस महिला की मौत हुई उनका अंतिम संस्कार यहां के निगमबोध घाट पर चिकित्सा अधिकारियों की देखरेख में हुआ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टरों और एमसीडी की देखरेख में अंतिम संस्कार हुआ. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इसने बीमारी से मरने वालों के शव को लेकर दिशानिर्देश तय करने का काम शुरू कर दिया है. Also Read - कोरोना वायरस के खौफ में हौसला बढ़ाएगा ये गाना, बॉलीवुड हस्तियों ने मिलकर गाया-फिर मुस्कुराएगा इंडिया

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि हालांकि शवों के निस्तारण से कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका कम है लेकिन दिशानिर्देश बनाए जा रहे हैं ताकि किसी भी गलत अवधारणा को दूर किया जा सके और शव से रोग के फैलने पर जागरूकता फैलाई जा सके. नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने हैदराबाद में एक कार्यक्रम में कहा कि घातक वायरस के कारण घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या में दस से 15 फीसदी की कमी आई है.

पीएम करेंगे दक्षेस देशों को वीडियो कांफ्रेंस
विदेश मंत्रालय ने घोषणा की कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार की शाम पांच बजे दक्षेस देशों को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित करेंगे ताकि क्षेत्र में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए संयुक्त रणनीति बनाई जा सके. मोदी ने शुक्रवार को संयुक्त रणनीति बनाने का प्रस्ताव दिया और सभी सदस्य देशों ने उनके सुझाव का समर्थन किया. प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा घर में ही पृथक रहने के दिशानिर्देश को ट्विटर पर साझा किया. दिशानिर्देश को साझा करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘यहां कुछ महत्वपूर्ण सूचना है. कृपया पढ़ें.’’ स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि घर में पृथक रहने का मतलब है ‘‘कि आप और आपके प्रियजन सुरक्षित रहें.’’

सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक केरल में कोरोना वायरस के 19 सकारात्मक मामले सामने आए हैं जबकि महाराष्ट्र में देश के सबसे ज्यादा 26 कोरोना के कन्फर्म मामले सामने आए हैं. शनिवार को मुंबई, नागपुर और यवतमाल में शनिवार को कोरोना वायरस के नए मामलों की पुष्टि के बाद सूबे में इस वायरस की चपेट में आए लोगों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है. उत्तरप्रदेश में 12, दिल्ली में सात, कर्नाटक में छह, लद्दाख में तीन, जम्मू-कश्मीर में दो और राजस्थान, तेलंगाना, तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश तथा पंजाब में एक-एक मामले सामने आए हैं. कुल 96 पुष्ट मामलों में 17 विदेशी नागरिक हैं जिनमें 16 इटली के पर्यटक और एक नागरिक कनाडा का है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सात पॉजिटिव पाए गए लोगों को उपचार के बाद ठीक होने पर छुट्टी दे दी गई है. इनमें पांच उत्तरप्रदेश के और एक- एक राजस्थान और दिल्ली के हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय में विशेष सचिव संजीव कुमार ने कहा कि पॉजिटिव पाए गए लोगों के संपर्क में आए 4000 से अधिक लोगों को निगरानी में रखा गया है. उन्होंने कहा कि पॉजिटिव पाए गए लोगों के संपर्क में आए व्यक्ति भी पृथक इकाई में नहीं रहना चाह रहे हैं.

उन्होंने कहा कि महान एअर लाइन ईरान से भारतीय नागरिकों को वापस ला रहा है और वह शनिवार की मध्य रात्रि तक मुंबई पहुंचेगा. शनिवार को इटली के मिलान के लिए एअर इंडिया की विशेष उड़ान भेजी जा रही है ताकि भारतीय छात्रों को वहां से लाया जा सके. कुमार ने कहा कि सभी राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में सामुदायिक निगरानी, पृथक इकाई, अलग वार्ड, प्रशिक्षित श्रमशक्ति,त्वरित प्रतिक्रया दल को मजबूत किया जा रहा है.

एन95 सहित मास्क और हैंड सैनेटाइजर्स वस्तु अधिनियम के दायरे में
कोरोना वायरस को देखते हुए सरकार ने एन95 सहित मास्क और हैंड सैनेटाइजर्स को आवश्यक वस्तु अधिनियम के दायरे में ला दिया है. ये सामग्री जून मध्य तक आवश्यक वस्तु की श्रेणी में रहेंगी. इसका उद्देश्य इनका उचित मूल्य बरकरार रहना और कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वालों पर कार्रवाई करना है. कुमार ने कहा कि 30 हवाई अड्डों पर 11406 उड़ानों से 12 लाख 29 हजार 363 यात्रियों की जांच हो चुकी है. इसके अलावा आने वाले सभी यात्रियों को दिशानिर्देश के मुताबिक पृथक इकाई में रखा जा रहा है. गृह मंत्रालय ने कहा कि राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष के तहत जारी धन का इस्तेमाल आवश्कय उपकरण खरीदने और पृथक इकाइयों में रखे गए लोगों के लिए किया जा सकता है.

वीजा जारी करने से मना
भारत में अमेरिकी दूतावास और महावाणिज्य दूतावासों ने कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए 16 मार्च से वीजा जारी करने से मना कर दिया है. उधर, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ :आरएसएस: ने बेंगलुरू में शनिवार को आयोजित होने वाले अपने तीन दिवसीय वार्षिक बैठक को स्थगित कर दिया है. कर्नाटक सरकार द्वारा आईटी एवं अन्य पेशेवरों को एक हफ्ते के लिए घर से काम करने का परामर्श जारी करने के बाद इंफोसिस ने बेंगलुरू में अपने एक कार्यालय को खाली कर दिया.

सीमाओं को सील कर दिया
पश्चिम बंगाल ने भूटान के साथ अपनी सीमाओं को सील कर दिया जिससे माल एवं यात्रियों का आना-जाना बंद हो गया. केरल में एक अमेरिकी दंपति पुलिस को चकमा देकर कोरोना वायरस के पृथक वार्ड से फरार हो गया जिसके बाद कोच्चि हवाई अड्डे पर उनका पता लगाकर उन्हें निगरानी में रखा गया.

नागपुर के सरकारी अस्पताल में चार लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमण के संदेह में पृथक वार्ड में रखा गया था और उनके जांच का परिणाम आने से पहले ही वे घर लौट गए. बहरहाल, उनमें कोरोना वायरस की जांच नकारात्मक पाई गई. असम सरकार ने कोरोना वायरस को देखते हुए राज्य के शैक्षणिक संस्थानों के लिए कई उपायों की घोषणा की. सरकार की तरफ से जारी निर्देश में कहा गया कि स्कूलों, कॉलेजों और उच्च शिक्षण संस्थानों में कोई प्रदर्शनी आयोजित नहीं होनी चाहिए और कोई भी दौरा या भ्रमण नहीं होना चाहिए. इसने कहा कि 15 अप्रैल तक प्रार्थना सभाओं का आयोजन नहीं होना चाहिए.

भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को लोगों को सलाह दी कि भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें और उनसे आग्रह किया कि अगर बाहर जाना ही है तो मास्क पहनें ताकि कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं फैले. खट्टर ने कहा कि जिला स्तर पर सहायता डेस्क बनाने के अलावा राज्य स्तर पर भी सहायता डेस्क बनाया गया है. तेलंगाना में शनिवार को कोरोना वायरस का एक नया मामला सामने आया है जिससे राज्य में पॉजिटिव मामलों की संख्या दो हो गई है. राज्य सरकार ने कहा है कि वह वायरस की रोकथाम के लिए हरसंभव कदम उठाएगी.

मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने विधानसभा में बताया कि इटली की यात्रा करने वाले एक व्यक्ति में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. उन्होंने कहा कि रोगी को सरकारी गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

(इनपुट भाषा)