Coronavirus Vaccination: देश में कोरोना महामारी एक बार फिर से पैर पसारने लगा है. देश के कुछ हिस्सों में कोरोना के मामले में तेजी दर्ज की गई है. इन्हीं राज्यों में से एक है महाराष्ट्र. यहां कोरोना के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं. ऐसे में कोरोना वैक्सीनेशन की रफ्तार को बढ़ाए जाने को लेकर चर्चा हो रही है. खबरों के मुताबिक केंद्र सरकार अगले चार से छह हफ्तों में वैक्सीन की दर को 5 लाख वैक्सीन प्रतिदिन करने को लेकर योजना बना रही है.Also Read - Jacinda Ardern: कोरोना के कारण दुनियाभर में पाबंदी, इस देश की प्रधानमंत्री ने रद्द की अपनी शादी

भारत सरकार देश में 200 जगहों पर रोजोना किए जा रहे टीकाकरण की संख्या को दोगुना कर सकती है. बता दें कि ऐसा कदम तब उठाया जा रहा है, जब अगले महीने से 50 साल से ऊपर उम्र वाले लोगों को वैक्सीन लगाने की तैयारी चल रही है. बता दें कि अब तक यह वैक्सीन केवल फ्रंटलाइन वर्कर्स को ही दिया जा रहा था. Also Read - बीसीसीआई ने बदले भारत-वेस्टइंडीज वनडे, टी20 सीरीज के वेन्यू, देखें नया शेड्यूल

बता दें कि महाराष्ट्र, पंजाब, आंध्र प्रदेश और राजधानी दिल्ली में कोरोना के एक्टिव मामलों में अचानक वृद्धि देखने को मिली है. महाराष्ट्र में 11 फरवरी को एक्टिव मामलों की संख्या 32 हजार थी. यह रविवार के दिन तक 54 हजार पहुंच गई. पंजाब में फरवरी महीने तक 2300 कोरोना के मामले थे. लेकिन अ ये बढ़कर 3000 हो गए हैं. वहीं आंध्रप्रदेश और दिल्ली में भी एक्टिव मामलों में पिछले दिनों कमी आने के बाद अचानक वृद्धि हुई है. Also Read - UPTET 2021: कोरोना संक्रमित अभ्यर्थी दे सकेंगे यूपीटीईटी परीक्षा, अलग से होगी व्यवस्था

बता दें कि इस बाबत कई राज्यों में सख्ती फिर से लागू की जा रही है. महाराष्ट्र में बीते दिनों लॉकडाउन जैसे फैसले भी लेने पड़े. नागपुर में 7 मार्च तक शनिवार और रविवार के लिए मुख्य बाजारों को बंद रखा गया है.