कोलकाता: पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य के सभी 12 चिड़ियाघर जिसमें मशहूर अलीपुर जूलॉजिकल गार्डन भी शामिल है, 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिए हैं. एक वरिष्ठ मंत्री ने कहा कि सरकार ने ये फैसला घातक कोरोनावायरस से बचाव के लिए लिया है. एक अधिकारी ने कहा कि यहां का राष्ट्रीय पुस्तकालय भी 31 मार्च तक बंद रहेगा. Also Read - Covid-19 : उत्तर प्रदेश के इस शहर से एक और तबलीगी जमाती पाया गया कोरोना पॉजिटिव

वन मंत्री राजीव बनर्जी ने संवाददाताओं को बताया कि यह निर्णय सेंट्रल जू अथॉरिटी ऑफ इंडिया की एक सलाह के तहत लिया गया है, जिसका राज्य सरकार पूरी तरह पालन कर रही है. उन्होंने कहा, “हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की जिंदगियों को महफूज रखना है. भीड़-भाड़ वाली जगहों पर कोरोनावायरस फैलने का अंदेशा कई गुना ज्यादा है, लिहाजा राज्य में हम ऐसी स्थिति से बचना चाहते हैं.” Also Read - जमातियों ने कानपुर अस्पताल के कर्मचारियों संग किया दुर्व्यवहार, हटाई गईं महिला नर्सें

बनर्जी ने कहा कि इसके साथ ही राज्य सरकार यह भी सुनिश्चित करने जा रही है कि चिड़ियाघर के जानवर कोरोनावायरस और स्वाइन फ्लू जैसी बीमारियों की गिरफ्त में न आएं. उन्होंने कहा, “जानवरों को अभी चिकन नहीं दिया जा रहा है.” इससे पहले दिल्ली व देश के कई अन्य राज्यों में ऐसा किया जा चुका है. दिल्ली में 50 लोगों के एक स्थान पर इक्ट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी गई है. यही नहीं दिल्ली में शॉपिंग मॉल्स, स्कूलों और पार्कों को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है. Also Read - CRPF के चीफ मेडिकल ऑफिसर के पॉजिटिव आने के बाद डीजी एपी महेश्वरी ने खुद को किया क्वारंटीन