नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले बड़ी तेजी से बढ़ रहे हैं. लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद से ही यहां कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है. साथ ही यहां कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में भी तेजी देखने को मिल रही है. ऐसे में दिल्ली सरकार द्वारा एक अहम फैसला लिया गया है. दिल्ली सरकार ने अगले एक सप्ताह के भीतर ही 20 हजार बेड्स तैयार करने को लेकर आदेश जारी किया है. इन बेड्स की व्यवस्था होटलों, नर्सिंग हों, और बैक्वेंट हॉल्स में की जाएंगी. साथ ही सरकार ने बेड्स की व्यवस्था के लिए इन्हें अधिग्रहण करने का फैसला किया है. Also Read - कोरोना के हवा से फैलने के दावे से घबराएं नहीं, बस करिए ये काम, जानिए क्या कहते हैं विशेषज्ञ 

बता दें कि दिल्ली के होटलो में 4 हजार बेड्स कोविड 19 के मरीजों के लिए तैयार किए जाएंगे. 5 हजार बेड्स नर्सिंग होम और 11 हजार बेड्स बैंक्वेंट हॉल्स में तैयार किए जाएंगे. सरकार की यह योजना है कि अगले सप्ताह तक 20 हजार नए बेड्स की पुन: व्यवस्था हो. बता दें दिल्ली के होटलों को इमरजेंसी अस्पताल में बदला जाएगा. इन्हें दिल्ली के निजी अस्पतालों से जोड़ा जाएगा. वहीं बैंक्वेट हॉल्स को नर्सिंग होम्स के साथ जोड़ा जाएगा. Also Read - कोरोना वायरस को हवा में मारने वाला फिल्टर बना, तो क्या अब प्लेन, क्लास रूम जैसी जगहों पर नहीं रहेगा डर?

बता दें कि दिल्ली में कुछ होटलों को निजी अस्पतालों से जोड़ा जा चुका है. यहां लोगों कोरोना मरीजों का इलाज शुरू भी हो चुका है. बता दें कि जिलाधिकारियों को इस बाबत आदेश भी जारी किया जा चुका है. साथ होटलों और नर्सिंग होम्स में इलाज कराने आए लोगों के लिए रेट कार्ड भी तय किया जा चुका है. आगे समय समय पर सरकार द्वारा इस तरह के फैसले लिए जाते रहेंगे. राजधानी दिल्ली में अगर कोरोना संक्रमण की बात करें तो यहां अबतक 38,958 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है. वहीं इससे अबतक 14,945 लोगों को इलाज कर ठीक किया जा चुका है. बता दें कि राजधानी में अबतक 1271 लोगों के मौत की पुष्टि की जा चुकी है. Also Read - ENG vs WI: विंडीज ने 32 साल पहले जीती थी इंग्‍लैंड में आखिरी टेस्‍ट सीरीज, जानें क्‍या कहते हैं आंकड़े !