नई दिल्ली: कोरोना महामारी से निपटने के लिए सरकार का हर विभाग अपने स्तर पर हर संभव मदद कर रहा है. रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि उसने 70,000 लीटर हैंड सैनिटाइजर देश को भेजा है. रक्षा मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा- “हैंड सैनिटाइटर का निर्माण युद्धस्तर पर हो रहा है और 70,000 से अधिक लीटर विभिन्न एजेंसियों को पहले ही आपूर्ति किया जा चुका है. ब्लड पेनेट्रेशन टेस्ट के लिए दो टेस्ट फैसिलिटी स्थापित की गई हैं, एक चेन्नई में और दूसरी कानपुर.” Also Read - पीएम मोदी बोले- भारत ने सबसे पहले लगाया लॉकडाउन इसलिए आ रही करोना के मामलों में कमी

मंत्रालय के मुताबिक 10 अस्पतालों में लगभग 280 बेड को आइसोलेशन के लिए अलग से तैयार रखा है. रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इन बेड्स को स्वास्थ्य मंत्रालय की आवश्यकताओं के अनुसार तैयार किया गया है. मंत्रालय ने कहा, “90,000 से अधिक गैर-चिकित्सा मास्क निर्मित और वितरित किए गए हैं. इस सप्ताह तक चिकित्सा मास्क के परीक्षण की सुविधा भी होगी.” Also Read - कोल्ड चेन की कमी से दुनिया में तीन अरब लोगों तक कोरोना टीका पहुंचने में हो सकती है देर

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि ऑर्डनेंस फैक्ट्री बोर्ड (ओएफबी) ने आईएसओ क्लास 3 एक्सपोजर मानकों के अनुरूप कवरॉल (coveralls) की आपूर्ति शुरू कर दी है. HLL लाइफकेयर लिमिटेड (HLL) द्वारा 1.10 लाख के शुरुआती ऑर्डर का निर्माण जोरों पर है. यह ऑर्डर 40 दिनों में पूरा होगा.” Also Read - कोरोना को मात देने के बाद जेनेलिया ने संक्रमण से बचने का बताया एकमात्र तरीका, कहा- अब मुश्किल...