नई दिल्ली: देश में कोरोनो वायरस स्थिति की समीक्षा करने के लिए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार यानी आज कैबिनेट समिति की बैठक करेंगे. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक मीटिंग में, कैबिनेट केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते को नहीं बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे सकती है. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर आज सुबह 11 बजे कैबिनेट की बैठक होगी. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि बैठक में कोरोना संकट पर भी चर्चा की उम्मीद की जा रही है. Also Read - Gujarat Lockdown News: क्या गुजरात में भी लगने जा रहा लॉकडाउन? जानें CM रूपाणी ने क्या दिया ताजा अपडेट

ज्ञात हो कि केंद्र ने पिछले महीने केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (डीए) को मौजूदा 17 प्रतिशत से 4 प्रतिशत और बढ़ा दिया था. लेकिन अब मडिया रिपोर्ट्स की मानें तो कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच उनके डीए को बढ़ाने के इस फैसले पर रोका लगाई जा सकती है. Also Read - कोरोना के संकट से बचने के लिए क्या करें और क्या न करें... पीएम मोदी ने बताया

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि सरकारी राजस्व में महामारी की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. देश की आर्थिक स्थिति सुधरने पर केंद्र अगले साल डीए बढ़ाने की योजना बना सकता है. Also Read - PM Modi on Lockdown: लॉकडाउन को लेकर पीएम ने कही ये बात, 10 प्वाइंट्स में जानिए संबोधन का सार

अगर कैबिनेट कमेटी इस पर रोक लगाने का फैसला लेती है तो इससे देशभर के 54 लाख से ज्यादा केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों पर असर पड़ेगा. ये खबर ऐसे समय में आई है जब कैबिनेट सचिव ने सभी राज्यों की सरकारों को एक दिन के वेतन को PM CARES फंड में योगदान करने के लिए लेटर लिखा है.

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देश में जारी लॉकडाउन से देश की अर्थव्यवस्था को काफी गहरा नुकसान पहुंचा है. अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए, केंद्र ने सोमवार को, हालांकि, लॉकडाउन से बाहर निकलने की योजना बनाते हुए देश में कुछ आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने की अनुमति दी.