नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने शनिवार को एक आदेश जारी कर शहर के आठ बैंक्वेट हॉलों में कोविड-19 मरीजों के लिए 1,055 बिस्तर लगाने और उन्हें सरकारी अस्पतालों के साथ जोड़ने को कहा है. शहर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी से हो रही वृद्धि को देखते हुए यह फैसला लिया गया है.Also Read - Corona Update: देशभर में पिछले 24 घंटे में 2.50 लाख से ज्यादा नए मामले, 3.47 लाख ने संक्रमण को मात दी

सरकार की योजना के अनुसार, प्रशासन शहर में कोविड-19 के हालात से निपटने के लिए 77 बैंक्वेट हॉलों में 11,229 बिस्तर लगाने पर विचार कर रही है. आदेश में कहा गया है कि प्रत्येक जिले में 100 से ज्यादा बिस्तरों वाले बैंक्वेट हॉल को कोविड-19 के लिए समर्पित सरकारी अस्पताल से जोड़ा जा सकता है. Also Read - Omicron in India: विशेषज्ञ बोले - देश में जल्द खत्म होगी तीसरी लहर, साथ ही दी यह हिदायत

लोकनायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी), गुरु तेग बहादुर अस्पताल (जीटीबी) और राजीव गांधी एसएस अस्पताल, प्रत्येक के साथ तीन-तीन बैंक्वेट हॉलों को जोड़ा जा सकता है. उसमें कहा गया है कि दीप चंद बंधू अस्पताल और सत्यवाद राजा हरिशचन्द्र अस्पताल से एक-एक बैंक्वेट हॉल को जोड़ा जा सकता है. Also Read - Vaccine नहीं लगवाने वाले लोग कोरोना की तीसरी लहर में ज्यादा प्रभावित, मृत्यु भी ज्यादा

(इनपुट भाषा)