COVID-19: एहतियाती खुराक के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हुआ, कल से लगवा सकेंगे 'बूस्टर डोज'

कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन ने पूरी दुनिया के सामने एक नई चुनौती रख दी है. भारत सहित कई देशों में नई लहर देखी जा रही है. भारत में भी स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों व गंभीर बीमारियों के साथ जी रहे लोगों को कोरोना की एहतियाती खुराक देने का फैसला किया गया है. शनिवार शाम को कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शरू हो गई.

Published: January 9, 2022 8:01 AM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Digpal Singh

COVID-19: एहतियाती खुराक के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हुआ, कल से लगवा सकेंगे 'बूस्टर डोज'

COVID-19: कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन (Omicron) ने पूरी दुनिया के सामने एक नई चुनौती रख दी है. भारत सहित कई देशों में कोरोना (Coronavirus) की नई लहर (Third Wave of Corona) देखी जा रही है. ऐसे में लोगों को सुरक्षित रखना और तमाम स्वास्थ्य सुविधाओं को बनाए रखना भी किसी चुनौती से कम नहीं है. यही कारण है कि दो कोविड डोज (Covid Vaccine) ले चुके लोगों को बूस्टर डोज (Booster Dose) देकर उनकी इम्युनिटी को मजबूती देने की बात हो रही है. भारत में भी स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों व गंभीर बीमारियों के (Comorbidity) साथ जी रहे लोगों को कोरोना की एहतियाती खुराक (Precaution Dose) देने का फैसला किया गया है. इस एहतियाती खुराक के लिए शनिवार शाम को कोविन पोर्टल (Co-Win Portal) पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शरू हो गई.

Also Read:

शनिवार को रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही सोमवार 10 जनवरी से इन श्रेणी के लाभार्थियों को एहतियाती खुराक देने की कवायद शुरू हो जाएगी. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के अतिरिक्त सचिव और मिशन निदेशक, विकास शील ने शनिवार को एक ट्वीट में कहा, ‘स्वास्थ्य कर्मियों या अग्रिम मोर्चा कर्मियों और नागरिकों (60 से ऊपर) के लिए एहतियाती खुराक के लिए ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट की सुविधा अब कोविन पर शुरू है. अप्वाइंटमेंट बुक करें, कृपया कोविन पोर्टल पर जाएं.’

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि एहतियाती खुराक लेने वालों के लिए नए पंजीकरण की कोई आवश्यकता नहीं है और वे शनिवार से सीधे अपॉइंटमेंट ले सकते हैं या जाकर टीका लगवा सकते हैं. ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 दिसंबर 2021 को घोषणा की थी कि 10 जनवरी से एहतियाती खुराक दी जाएंगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि वरिष्ठ नागरिकों और गंभीर बीमारियों के साथ जी रहे लोगों को एहतियाती खुराक लेने के लिए अपने डॉक्टर से लिखित मंजूरी की आवश्यकता नहीं है. बता दें कि देश ने शुक्रवार को 150 करोड़ वैक्सीन का आंकड़ा पार कर लिया था. अभी तक देश की आबादी में 90 फीसद बालिग व्यक्ति कोविड19 की पहली खुराक ले चुके हैं.

(इनपुट – एजेंसियां)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 9, 2022 8:01 AM IST