नई दिल्ली: केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 55 वर्षीय एक कर्मी की कोरोना वायरस संक्रमण से मंगलवार को मौत हो गई. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधीन कार्यरत लगभग दस लाख कर्मियों वाले केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) में कोविड-19 महामारी के कारण होने वाली यह पहली मौत है. Also Read - अमेरिका में कोरोना वायरस से 1,00,000वें व्यक्ति की मौत, 500 से अधिक भारतीय भी हुए आकाल मौत के शिकार

मृतक सीआरपीएफ में उप निरीक्षक (एसआई) के पद पर तैनात था और कुछ दिन पहले संक्रमण की पुष्टि होने के बाद उसे सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “55 वर्षीय कर्मी की कोविड-19 संक्रमण से मंगलवार को मौत हो गई. वह दिल्ली स्थित बल की 31वीं बटालियन में तैनात था.” Also Read - अम्फान प्रभावितों की मदद को आगे आया KKR, किया इस नेक काम का वादा

उन्होंने कहा कि एसआई असम के बारपेटा जिले का निवासी था और पहले से मधुमेह तथा उच्च रक्त चाप से ग्रसित था. बटालियन के कम से कम 31 अन्य कर्मियों को भी कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती किया गया है. ऐसी आशंका है कि संक्रमण के शिकार हुए सहकर्मी के संपर्क में आने से उन्हें संक्रमण हुआ होगा. सीमा सुरक्षा बल और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के कुछ कर्मियों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है. Also Read - Coronavirus In India Update: कोरोना ने ढाया कहर, 24 घंटे में कुल 194 लोगों की हुई मौत, इन राज्यों का बुरा हाल

गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की. उन्होंने लिखा- “कोरोना संक्रमण से लड़ रहे सीआरपीएफ के बहादुर सब-इंस्पेक्टर मोहम्मद इकराम हुसैन के निधन की सूचना से अत्यंत दुःखी हूँ. वह अंत समय तक कोरोना महामारी से पूरी वीरता से लड़े. देश की सेवा व आंतरिक सुरक्षा के लिए उनका योगदान हम सभी देशवासियों को प्रेरित करता है.”

शाह ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा- “मैंने परसों ही सब-इंस्पेक्टर इकराम हुसैन के परिजनों से फोन पर बात कर उनका कुशलक्षेम जाना था. देश के एक बहादुर जवान को खोना हम सभी के लिए एक अपूरणीय क्षति है. मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ. दुःख की इस घड़ी में पूरा देश और केंद्र सरकार उनके परिवार के साथ खड़ी है.”