नई दिल्लीः देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे विदेशी नागरिकों को एअर इंडिया के दो विशेष विमानों से जोधपुर में भारतीय सेना के प्रतिष्ठान में आवश्यक तौर पर पृथक रखने के लिए ले जाया जाएगा क्योंकि अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 29 मार्च तक रद्द हो चुकी है. Also Read - कोरोना वायरस पीड़ितों के इलाज के लिए विश्व कप फाइनल में पहली जर्सी नीलाम करेंगे जोस बटलर

कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच एअर इडिया ने कई विशेष उड़ानें भरी हैं. इन उड़ानों के जरिए चीन के वुहान और इटली के रोम में फंसे भारतीयों को देश वापस लाया गया. Also Read - Video: पंजाब में हुआ कोरोना के खिलाफ जंग के असली हीरो का हुआ सम्मान, किसी ने बरसाए फूल तो किसी ने पहनाई माला

एयरलाइन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने चालक दल के सदस्यों से एक संदेश में कहा, ‘‘ जैसा कि आप जानते हैं कि यह परीक्षा की घड़ी है क्योंकि उड्डयन क्षेत्र भी बंद है लेकिन राष्ट्रीय एयरलाइन होने के नाते बचाव और चार्टर उड़ानों को भरने की हमारी विशेष ड्यूटी है.’’ Also Read - स्वीकार करना पड़ेगा कि इस बार हम विंबलडन नहीं खेल पाएंगे: जान इसनर

उन्होने कहा कि 25 तारीख को तड़के विदेशी नागरिकों को लेकर जोधपुर के लिए दो उडा़नें भरी जाएगी. एक सूत्र ने बताया कि भारतीय सेना ने जोधपुर में 500 बिस्तरों के पृथक केंद्र तैयार की है. यह संदेश चालक दल के उन सदस्यों के लिए है जो अभी पृथक नहीं किए गए हैं.

इस संदेश में कहा गया है, ‘‘ इन दो विशेष चार्टर एयरबस को कल जाने के लिए हमें स्वयंसेवकों की जरूरत है. अगर आप इस मिशन का हिस्सा बनना चाहते हैं तो कृपया अपना नाम और पहचान पत्र व्हाट्सएप करें.’’