Covid 19 in Festival Season: भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों की जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि केरल में अब कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आने लगी है. हालांकि वर्तमान में अब भी 68 प्रतिशत हिस्सा अब भी केरल से ही सामने आ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि वर्तमान में केरल1.99 लाख से अधिक कोरोना के एक्टिव मामले हैं. वहीं 5 राज्य जैसे मिजोरम, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु और महाराष्ट्र में 10,000 से अधिक कोरोना के एक्टिव मामले हैं.Also Read - Coronavirus cases In India: एक दिन में 12,428 लोग हुए संक्रमित, 356 लोगों की हुई मौत

वहीं भारतीय अयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव की मानें तो केरल में कोरोना के मामलों में गिरावट हो रही है. वहीं जल्द ही अन्य राज्यों में भी कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट आ रही है. वहीं तीसरी लहर के संभावनित खतरे को ध्यान में रखते हुए त्योहारों के सीजन में सावधानी बरतने की आवश्यकता है. क्योंकि त्योहार नजदीक आ रहे हैं. ऐसे में कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि हो सकती है. Also Read - PM Modi's UP Visit: सिद्धार्थनगर और काशी में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

त्योहारी सीजन में बढ़ेगा संक्रमण
नीति आयोग के सदस्य और राष्ट्रीय कोविड टास्क फोर्स के प्रमुख डॉ, वीके पॉल की मानें तो फेस्टिव सीजन में कोरोना मामलों के बढ़ने की संभावना है. वहीं उन्होंने कहा कि अगले 2-3 महीने बहुत महत्वपूर्ण हैं. ऐसे में देश में कहीं भी कोरोना के मामले न बढ़े इस कारण बात पर ध्यान देना होगा. उन्होंने कहा कि अक्टूबर और नवंबर सबसे महत्वपूर्ण महीने हैं और उन महीनों के दौरान संक्रमण बढ़ सकता है. Also Read - Health Care Tips During Festivals: कोविड के मुश्किल दौर में खुद को ऐसे रखें सुरक्षित

डॉ. पाल ने कहा कि ये फेस्टिव सीजन फ्लू के महीने हैं. ऐसे में हमें सावधानी ज्यादा बरतने की आवश्यकता है. क्योंकि अगर थोड़े बढ़ रहे संक्रमण के मामलों को कंट्रोल करने की आवश्यकता है. डॉ. पॉल ने यह भी दोहराया कि फेस्टिवल्स के दौरान खास सावधानी बरतने की आवश्यकता है. वहीं केरल के अलावा कुछ राज्यों में कोरोना के मामले चिंता का विषय है, हालांकि केरल में भी मामले में गिरावट दर्ज की गई है.