नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने बड़ा फैसला लिया है. डीएमआरसी अधिकारी के मुताबिक दिल्ली मेट्रो की सेवाएं सोमवार सुबह 10 बजे से दोपहर चार बजे और रात आठ बजे के बाद से ही बंद रहेगी. इस लिहाज से दिल्ली में केवल 6 घंटे ही मेट्रो चलेगी. अधिकारी के मुताबिक सोमवार की सुबह छह बजे से आठ बजे तक दिल्ली मेट्रों की सेवाएं केवल उन्हीं लोगों के लिए उपलब्ध होंगी जो आवश्यक सेवाओं में कार्यरत हैं. हालांकि खबरों के मुताबिक दिल्‍ली मेट्रो में बदलाव सिर्फ सोमवार (23 मार्च) के लिए किया गया है. Also Read - COVID-19: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 116 हुई

कोरोना वायरस के रिस्‍क के बीच दिल्‍ली मेट्रो के अलावा बेंगलुरु मेट्रो ने भी अपने शेड्यूल में बदलाव किया है. 23 मार्च को सुबह 6 बजे से 8 बजे तक हर 20 मिनट पर मेट्रो आएगी. इसमें सिर्फ अस्‍पताल, फायर डिपार्टमेंट, पुलिस, बिजली जैसी जरूरी सेवाओं से जुड़े लोग ही ट्रेवल कर पाएंगे. सुबह 8 से 10 बजे तक मेट्रो सबके लिए ओपन रहेगी. दिल्‍ली सरकार के निर्देशों के बाद दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) ने ये चेंजेस किए हैं. बेंगलुरु ने 31 मार्च तक के लिए नया शेड्यूल जारी किया है. Also Read - सबसे पहले रेलवे को हुई थी तबलीगी जमात में कोरोना की जानकारी, ट्रेन में मिले थे मरीज, फिर भी...

‘जनता कर्फ्यू’ के दौरान रविवार को दिल्ली मेट्रो सेवा बंद रहेगी
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘जनता कर्फ्यू’ लगाने की अपील में अपना योगदान देने के लिए दिल्ली मेट्रो सेवा रविवार को बंद रहेगी. दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने अपने ट्विटर हैंडल से कहा, “इस रविवार, 22 मार्च को मनाए जा रहे ‘जनता कर्फ्यू’ के मद्देनजर डीएमआरसी ने निर्णय लिया है कि हम अपनी सेवाएं इस दिन बंद रखेंगे. इस निर्णय का मकसद लोगों को अपने घरों में ही रहने के लिए और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए प्रेरित करना है, जो कि कोविड-19 से लड़ाई के खिलाफ अनिवार्य है.” Also Read - कोविड-19 महामारी के केंद्र रहे चीन को एशियाई युवा खेल 2021 की मिली मेजबानी

वैश्विक महामारी बन चुके इस वायरस ने भारत पर भी असर डाला है, जिसके चलते गुरुवार को प्रधानमंत्री ने देश से रविवार, 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक घरों में रहने के लिए कहा है, उन्होंने इसे ‘जनता कर्फ्यू’ नाम दिया है.