नई दिल्ली: भारत में एक दिन में सबसे अधिक 50 नये मामले सामने आए. इसके साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या 236 पहुंच गई है. इन संक्रमितों के संपर्क में आए 6700 से अधिक लोगों को निगरानी में रखा गया है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राज्य की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की. Also Read - COVID-19: बंगाल में कोरोना से दूसरी मौत, संक्रमितों की संख्या 22 हुई

महाराष्ट्र में कार्यस्थल 31 तक बंद
संक्रमितों की संख्या बढ़ने से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इसे नियंत्रित करने के लिए सख्त कदम उठाने पर मजबूर होना पड़ा है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई और पुणे सहित सभी बड़े शहरों में कार्यस्थल 31 मार्च तक बंद रहेंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय राजधानी के सभी मॉल को बंद करने की घोषणा की. हालांकि, उनमें मौजूद किराने और दवा की दुकानों को खोलने की अनुमति होगी. Also Read - Coronavirus: ट्रेनों के 20,000 डिब्बों को अलग वार्ड में बदलने की तैयारी की जाए: रेलवे बोर्ड

की जा रही है जमाखोरी
देशभर में कोरोना वायरस के बढ़ रहे मामलों के बीच प्रशासन जांच एवं नियंत्रण प्रणाली की दोहरी समस्या का सामना कर रहा है. उसे लोगों के भय का सामना भी करना पड़ रहा है जिसकी वजह से आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी की जा रही है. Also Read - जम्मू-कश्मीर में 4 और कोविड-19 संक्रमित मिले, 45 हुई कुल संख्या

स्वास्थ्य मंत्रालय की लोगों से अपील
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने लोगों से अपील की कि वे प्रधानमंत्री द्वारा 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सामाजिक मेलजोल से दूरी हेतु जनता कर्फ्यू के आह्वान का अनुपालन करें. उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वे टोल फ्री नंबर 1075 का इस्तेमाल कोई भी जानकारी प्राप्त करने के लिए करें. अग्रवाल ने कहा कि सरकार रक्षात्मक उपाय पर काम कर रही है.

नेताओं द्वारा भयभीत नहीं होने और सामान जमा नहीं करने की अपील के बावजूद किराना, दवा की दुकानों और अन्य सामान बेचने वाली दुकानों पर सामाजिक दूरी को दरकिनार करते हुए लोगों की लंबी कतारें दिख रही हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से रविवार को जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के आह्वान के जवाब में कई कारोबारियों सहित जनसेवाओं ने अपने प्रतिष्ठानों को बंद करने का फैसला किया है जबकि कई लोगों ने एहतियातन स्व पृथक करने का फैसला किया है.

रेलवे पर बड़ा असर
सूत्रों के मुताबिक कोई भी यात्री रेलगाड़ी शनिवार आधी रात से रविवार रात 10 बजे तक अपने प्रस्थान स्थल से रवाना नहीं होंगी जबकि उपनगरीय सेवाएं जनता कर्फ्यू के दौरान न्यूनतम रहेंगी. आईआरसीटीसी ने भी अगले आदेश तक स्टेशनों पर मौजूद भोजनालय और जनता आहार को बंद करने का फैसला किया है.

संक्रमितों में 32 विदेशी
भारत में कोरोना वायरस से संक्रमितों में 32 विदेशी हैं, जिनमें 17 इतालवी, तीन फिलीपीन के, दो ब्रिटेन और एक-एक कनाडा, इंडोनेशिया और सिंगापुर के रहने वाले हैं. कुल संक्रमितों की संख्या में दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में होने वाली चार मृतक भी शामिल हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, ‘‘ देशभर में 196 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित होने की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं जबकि 23 लोग या तो ठीक हो चुके हैं या विदेश जा चुके हैं एवं चार लोगों की मौत हुई है.

इतालवी पर्यटक की मौत
सवाई मानसिंह चिकित्सा महाविद्यालय के प्राचार्य सुधीर भंडारी ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से ठीक हो चुके 69 वर्षीय इतालवी पर्यटक की गुरुवार रात को हृदयाघात की वजह से मौत हो गई.

दिल्ली में अबतक 17 मामले
दिल्ली में अबतक 17 मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें एक विदेशी है जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी सहित 23 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. महाराष्ट्र में तीन विदेशियों सहित 52 लोगों में कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि हुई है जबकि केरल में दो विदेशियों सहित 28 मामलें सामने आए हैं. कर्नाटक में कोरोना वायरस संक्रमण के 15 मामले, लद्दाख में 10 और जम्मू-कश्मीर में चार मामले सामने आए हैं. तेलंगाना में नौ विदेशी सहित 17 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि हुई है.

राजस्थान में पहुंचा कोरोना
राजस्थान में भी दो विदेशियों सहित 17 मामलों की पुष्टि हुई है. राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में शुक्रवार को एक निजी अस्पताल के डॉक्टर के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद पूरे जिले में अपराधिक दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू कर दी है.

तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में भी संक्रमण के तीन-तीन मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं हरियाणा में 14 विदेशियों सहित 17 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. ओडिशा में दो और उत्तराखंड में अबतक तीन मामले सामने आए हैं. पश्चिम बंगाल और पंजाब में भी दो- दो मामले सामने आए हैं जबकि चंडीगढ़ में शुक्रवार को चार मामलों की पुष्टि के साथ कुल संक्रमितों की संख्या पांच हो गई है.

कोरोना वायरस को लेकर राष्ट्र को संबोधित किए जाने और लोगों को बहुत जरूरी होने पर ही घर से निकलने की हिदायत देने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरियो मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना वायरस को रोकने के उपायों जैसे क्षमता निर्माण स्थानीय अधिकारियों का प्रशिक्षण आदि पर चर्चा की. इस बैठक में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हिस्सा लिया. प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लोगों और स्थानीय निकायों की भागीदारी पर जोर दिया.

कोरोना पॉजिटिव सिंगर ने मचाया बवाल
इस बीच, राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने घोषणा की कि वह और उनके बेटे एवं भाजपा सांसद दुष्यंत सिंह स्वयं पृथक में चले गए हैं क्योंकि वे उस पार्टी में शामिल हुए थे जिसमें गायिका कनिका कपूर मौजूद थीं. कपूर पहली बॉलीवुड हस्ती हैं जिनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. दुष्यंत की जानकारी मिलने के बाद तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन और अपना दल की अनुप्रिया पटेल भी शुक्रवार को स्व पृथक हो गये.

ओ ब्रायन ने सिंह के स्व पृथक होने की खबरें आने के बाद ट्वीट कर कहा, ‘‘यह सरकार हमें जोखिम में डाल रही है. प्रधानमंत्री ने कहा है कि कि आप खुद को पृथक करें लेकिन संसद चल रही है. मैं उसके अगले ही दिन दुष्यंत के बगल में ढाई घंटे तक बैठा था. दो और सांसद स्व-पृथक हो गये हैं. सत्र स्थगित कर देना चाहिए.’’

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास पहुंचा कोरोना?
सिंह उन कई सांसदों में शामिल थे जो राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा 18 मार्च को आयोजित एक नाश्ते में शामिल हुए थे. वह बुधवार को परिवहन, पर्यटन एवं संस्कृति पर संसदीय दल की एक बैठक में भी शामिल हुए थे जिसमें करीब 20 सांसद शरीक हुए थे.

उत्तराखंड सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर शुक्रवार को घरेलू और विदेशी पर्यटकों के राज्य में प्रवेश पर अगले आदेश तक प्रतिबंध लगा दिया. आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा. सिक्किम के बाद उत्तराखंड यह कदम उठाने वाला दूसरा राज्य है.

पंजाब की महिला जो कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद अस्पताल से भाग गई थी, के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने परिवार से आह्वान किया कि कोरोना वायरस संक्रमित देशों से आने वाले लोगों की जांच और पृथक रखने का विरोध नहीं करें.

इस बीच, खेल जगत और बॉलीवुड की हस्तियों ने कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता फैलाने की कोशिश की है. भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और उनकी अभिनेत्री पत्नी अनुष्का शर्मा ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए स्व पृथक की अपील की.

कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर तमिलनाडु सरकार ने शुक्रवार को राज्य की आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और केरल से लगती सीमा को 31 मार्च तक बंद करने का फैसला किया है हालांकि, जरूरी वस्तुओं की आवाजाही को छूट रहेगी.

आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक केवल आवश्यक वस्तुओं जैसे दूध, पेट्रोल, डीजल, सब्जी, दवाएं और एलपीजी सिलेंडर को परिवहन को अनुमति होगी. इसके साथ ही एम्बुलेंस, न टालने वाले कारणों जैसे मौत आदि में शामिल होने के लिए हल्के निजी वाहनों में सवार लोगों को छूट दी गई है. विज्ञप्ति के मुताबिक आम लोगों के लिए अंतर राज्यीय यात्रा के लिए केवल सीमित बसों की ही परिचालन किया जाएगा.

(इनपुट भाषा)