नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण के हालात पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैठक की. इस बैठक में प्रधानमंत्री के साथ गृहमंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी मौजूद रहे. प्रधानमंत्री ने इस दौरान कोरोना के हालात से निपटने के लिए सभी राज्य सरकारों को दिल्ली मॉडल को अपनाने को कहा. प्रधानमंत्री ने इस दौरान कोरोना से निपटने के लिए राज्य, केंद्र और स्थानीय अधिकारियों की सराहना की. Also Read - लुपिन ने कोविड-19 की दवा ‘Covihalt’ को भारत के मार्केट में उतारा, जानें एक गोली की कीमत

प्रधानमंत्री ने निर्देश दिया कि राष्ट्रीय राजाधानी में जिस तरह कोरोना पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है. सभी राज्य सरकारें भी इसी तरह के तरीके को अपनाएं. पीएम ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर साफ-सफाई का ध्यान रखें. साथ ही अनुशासन का पालन भी करें. साथ ही महामारी के खिलाफ जारी जंग सतत जारी रखने चाहिए. मोदी ने कहा कि इस संबंध में संतुष्ट हो जाने की किसी प्रकार की गुंजाइश नहीं है. Also Read - राम जन्मभूमि आज मुक्त हुई, टेंट के नीचे रह रहे रामलला के लिए अब एक भव्य मंदिर का निर्माण होगा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि जहां कोरोना संक्रमण ज्यादा है, उन राज्यों और स्थानों पर फौरन राष्ट्रीय स्तर की निगरानी और दिशा निर्देश की व्यवस्था की जानी चाहिए. नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय राजधानी के अधिकारियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि कोरोन महामारी से बचाव में सभी राज्यों व अन्य सरकारों को भी ऐसे प्रयास किए जाने चाहिए. इस दौरान उन्होंने गुजरात में धन्वन्तरि रथ का भी उदाहरण दिया कि कैसे इसके माध्यम से घर घर जाकर मरीजों की देखभाल की जा रही है, साथ ही लोगों पर निगरानी रखी जा रही है. उन्होंने निर्देश दिया कि अन्य जगहों पर भी इसे अपनाया जाना चाहिए.