Covid-19 Related Death In Delhi: राजधानी दिल्ली में कोरोना का कहर देश के किसी भी शहर की तुलना में सबसे ज्यादा है. इसी कारण यहां मरने वाली की संख्या भी काफी ज्यादा है. राजधानी में 28 अक्टूबर से अब तक कोविड-19 से 2,364 मरीजों की मौत हुई और इस दौरान प्रतिदिन सामने आने वाले संक्रमण के मामले पहली बार पांच हजार के आंकड़े को पार कर गए. आधिकारिक आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई. Also Read - Coronavirus Cases In Delhi: प्राइवेट अस्पतालों में बेड का देना होगा सरकारी रेट, स्वास्थ्य मंत्री का मामले कम होने का दावा

बुधवार को कोविड-19 से 99 और मरीजों की मौत हो गई जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 8,720 पर पहुंच गई. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, शहर में 19 नवंबर को 98 मौत, 20 नवंबर को 118 मौत, 21 नवंबर को 111 मौत, 22 नवंबर को 121 मौत, 23 नवंबर को 121 मौत और 24 नवंबर को 109 मरीजों की कोविड-19 से मौत हुई. Also Read - केरल में कोरोना के 8,516 नए मामले आए सामने, दिल्ली में लगभग 7 हजार लोग संक्रमित

कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौत की सर्वाधिक संख्या (131), 18 नवंबर को दर्ज की गई थी और 11 नवंबर को संक्रमण के सर्वाधिक 8,593 मामले सामने आए थे. Also Read - दिल्ली में कोरोना फिर बेकाबू, सीएम केजरीवाल ने बुलाई उच्च स्तरीय बैठक, कर सकते हैं कई ऐलान

सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में बृहस्पतिवार को 7,546 मामले, शुक्रवार को 6,608 मामले, शनिवार को 5,879 मामले, रविवार को 6,746 मामले, सोमवार को 4,454 मामले, मंगलवार को 6,224 मामले और बुधवार को 5,246 मामले सामने आए.

आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 5,45,787 हो गए जिनमें से 4,98,780 लोग ठीक हो चुके हैं. स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि अस्पताल पहुंचने में देर होना, आईसीयू बिस्तरों की कमी, खराब मौसम और प्रदूषण में वृद्धि से दिल्ली में कोविड-19 से होने वाली मौत की संख्या बढ़ रही है.