Covid 19 Third Wave: भारत में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत अगस्त महीने में हो जाएगा और अक्टूबर महीने में कोरोना अपने पीक पर पहुंच जाएगा. कोरोना की दूसरी लहर अभी देश में खत्म ही नहीं लेकिन इस बीच विशेषज्ञों द्वारा कोरोना की तीसरी लहर को लेकर दावा किया गया है. गौरतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर ने खूब कोहराम मचाया ऐसे में अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है तो तबाही देश में और भी ज्यादा हो सकता है.Also Read - IPL 2021, DC vs SRH: T Natarajan कोरोना पॉजिटिव, क्या रद्द होगा आज का मुकाबला?

विशेषज्ञों का दावा Also Read - T Natarajan Tested Covid-19 Positive: टी नटराजन को हुआ कोरोना, विजय शंकर के साथ था करीबी संपर्क

हैदराबाद और कानपुर IIT में मथुकुमल्ली विद्यासागर और मनिंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में शोधकर्ताओं का हवाला देते हुए ब्लूमबर्ग ने बताया कि कोरोना के मामलों में फिर हो रही वृद्धि देश में कोरोना महामारी के तीसरे लहर को आगे बढ़ाएगी. इन्होंने कहा कि अक्टूबर महीने में कोरोना की तीसरी लहर अपने चरम पर पहुंच सकती है. वहीं केरल व महाराष्ट्र से कोरोना के आ रहे मामलों से स्थिति खराब होने की आशंका भी व्यक्त की गई है. Also Read - BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने घरेलू क्रिकेटरों की मैच फीस बढ़ाए जाने के फैसले का स्वागत किया

विशेषज्ञों द्वारा एक अनुमानित गणितीय मॉडल पर आधारित कोरोना की तीसरी लहर का अनुमान लगाया गया. इसके मुताबिक बताया गया कि कोरोना की तीसरी लहर कोरोना की दूसरी लहर जितनी खतरनाक नहीं होगी. तीसरी लहर में प्रतिदिन डेढ़ लाख मामले आ सकते हैं. वहीं विशेषज्ञों ने बताया कि अगस्त महीने में ही कोरोना की तीसरी लहर का असर दिखना शुरू हो जाएगा.