Covid 19 Updates: राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के कारण जान गंवाने वालों में से 26 प्रतिशत से अधिक लोग 50 से 59 वर्ष की आयु वर्ग के थे. आधिकारिक आंकड़ों से यह पता चला है. Also Read - पाकिस्तान के सरकारी कर्मचारियों का वेतन हो सकता है फ्रीज, आईएमएफ ने कही ये बड़ी बात

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में कोरोना वायरस से हुई मौत का आंकड़ा 176 तक पहुंच गया है, जबकि बुधवार को कोविड-19 संक्रमण के 534 नए मामले सामने आए हैं, जिससे शहर में संक्रमितों की संख्या 11,000 से अधिक हो गई है. Also Read - Darwin Cricket League T20: ऑस्ट्रेलिया में T20 टूर्नामेंट का सजा मंच, पहले दिन खेले जाएंगे 6 मैच

कुल मृतकों में से 92 मरीज 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के थे, जो कुल मृतकों का 52 प्रतिशत से अधिक है. Also Read - Mumbai Updates: हैरान करने वाले हैं महाराष्ट्र में कोरोना के मामले, देश के 20 प्रतिशत मरीज सिर्फ मुंबई में

बुधवार को जारी नवीनतम स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, उनमें से 47 मरीजों (26.71 प्रतिशत) की उम्र 50-59 के बीच और 37 मरीजों (21.02 प्रतिशत) की उम्र 50 वर्ष से कम थी.

534 नए मामलों के साथ, दिल्ली में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 11,088 हो गई है.

वहीं दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में इलाकों का रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में वर्गीकरण करने के लिए एक नई प्रक्रिया अपनाने का निर्णय लिया है.

बुधवार को जारी बुलेटिन में दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि मृत्यु जांच समिति (डेथ ऑडिट कमेटी) को विभिन्न अस्पतालों से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार मौत की कुल संख्या का तात्पर्य उन मामलों से है जहां मौत का प्राथमिक कारण कोविड-19 बताया गया है.

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले और निषिद्ध क्षेत्र की संख्या में कमी के बीच स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिला मजिस्ट्रेटों से कहा है कि वह मौजूदा दिशा-निर्देश के अनुसार अपने क्षेत्रों में निषिद्ध क्षेत्र की पहचान करें. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि यहां निषिद्ध क्षेत्र कम होकर अब 69 रह गए हैं.