Oxford Corona vaccine news Update: केन्द्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की विशेष समिति ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) से उस आवेदन पर स्पष्टीकरण मांगा है, जिसमें उसने भारत के औषधि महानियंत्रक (डीजीसीआई) से ऑक्सफोर्ड द्वारा कोविड-19 के लिए विकसित संभावित टीके के दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण के लिए अनुमति मांगी है. आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी. Also Read - COVID-19 वैक्सीन अपडेट: भारत व अन्य देशों के लिए Covid-19 टीके की दस करोड़ खुराक का उत्पादन करेगा सीरम इंस्टीट्यूट, 225 रुपये होगी कीमत

उन्होंने बताया कि कोविड-19 पर गठित विषय विशेषज्ञ समिति की मंगलवार को एसआईआई के आवेदन पर चर्चा के लिए बैठक हुई. इसमें पुणे की कंपनी से कहा गया कि वह दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण के लिए तैयार प्रोटोकॉल की समीक्षा करे और इसके साथ ही कुछ अतिरिक्त जानकारी भी मांगी गई. Also Read - Corona Vaccine Good News! भारत की यह कंपनी बना रही कोरोना वैक्सीन, पहला चरण रहा सफल, आज से दूसरे चरण की शुरुआत

उन्होंने बताया कि बुधवार शाम को परीक्षण के लिए एसआईआई ने संशोधित प्रोटोकॉल डीजीसीआई के समक्ष जमा कराई. Also Read - COVID-19 Vaccine: पुणे की कंपनी को कोरोना वैक्‍सीन के मानव परीक्षण की इजाजत, 1600 लोग तैयार

आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘‘कंपनी से मंगलवार को प्रोटोकॉल में उल्लेखित दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण को परिभाषित करने को कहा गया और मूल्यांकन के लिए दोबारा आवदेन एसईसी में जमा कराने को कहा गया.’’

सूत्रों ने बताया कि समिति ने चिकित्सकीय परीक्षण के स्थानों का वितरण पूरे देश में करने की अनुसंशा की.

सूत्रों ने बताया, ‘‘ उन्होंने परीक्षण के दौरान प्रस्तावित पंजीकृत 1,600 प्रतिभागियों को लेकर भी स्पष्टीकरण नहीं दिया.

एसआई आई में सरकारी मामलों के अतिरिक्त निदेशक प्रकाश कुमार सिंह ने कहा, ‘‘हमने एसईईसी की आगे कार्रवाई के लिए आज शाम संशोधित प्रोटोकॉल डीजीसीआई कार्यालय में जमा कराया है.’’

(इनपुट भाषा)