कैनिंग (पश्चिम बंगाल): पंचायत चुनाव से कुछ घंटे पहले पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले में मकान में आग लगने से झुलसे युगल की मौत हो गई. पीड़ित के परिजन ने आरोप लगाया कि रात करीब एक बजे काकद्वीप के कच्चराबाड़ी इलाके में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस से संबंधित लोगों ने उनके मकान पर आग लगा दी. इसमें माकपा कार्यकर्ता और उनकी पत्नी जल गए. माकपा ने सीएम और ममता बनर्जी के लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठाते हुए निर्वाचन आयोग से शिकायत की है. वहीं, ममता सरकार के मंत्री ने आरोप को खारिज किया है.

सुंदरबन तटीय जिले के पुलिस अधीक्षक तथागत बसु ने बताया कि आग लगने के हादसे की सूचना मिली है. इसमें एक व्यक्ति और उसकी पत्नी की झुलसने से मौत हो गई. जांच के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञों को बुलाया गया है.

माकपा के जिला सचिव शामिक लाहिड़ी ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस से जुड़े लोगों ने माकपा कार्यकर्ता देबप्रसाद दास और ऊषा की पिटाई की और इसके बाद उनके घर को आग लगा दी. माकपा ने ट्वीट करके सीएम और टीएमसी चीफ ममता बनर्जी के लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठाते हुए निर्वाचन आयोग से शिकायत की है.

राज्य के मंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय विधायक मंटू पखिरा ने आरोप को खारिज किया है. उनका कहना है कि आग का कारण शार्ट सर्किट हो सकता है. (इनपुट- एजेंसी)