नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस बीच दीपावली के त्योहार के मद्देनजर राज्यों में प्रदूषण न बढ़ जाए और प्रदूषण के कारण कोरोना महामारी रफ्तार न पकड़ ले इस कारण देश के कई राज्यों में अभी तक पटाखों के खरीदने-बेचने और फोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. दिल्ली में कोरोना एक तरफ खत्म होने का नाम नहीं ले रहा वहीं दिल्ली के प्रदूषण को लेकर कोर्ट और दिल्ली सरकार दोनों ही चिंतित है. इस बाबत गुरुवार की शाम दिल्ली सरकार ने अपने कई अधिकारियों के साथ बैठक कर हालात की समीक्षा की. दिल्ली में पहले ही पटाखे पर बैन लगाया जा चुका है. इसी तरह एक एक कर कई राज्यों ने अपने यहां पटाखों को बैन कर दिया. Also Read - कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक, क्या फिर लगेगा देशव्यापी Lockdown?

किन राज्यों में पटाखों पर लगे बैन Also Read - Lockdown in Rajasthan: अब राजस्थान में 31 दिसंबर तक लगा लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू, नहीं खुलेंगे स्कूल, देखें नई गाइडलाइन

महाराष्ट्र Also Read - India Covid-19 Updates: देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 94 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 38,772 नए केस और 443 की मौत

शुक्रवार के दिन महाराष्ट्र सरकार की तरफ से कोविड 19 के रोकथाम को लेकर दिशानिर्देश जारी किए गए थे. इस दौरान सरकार की तरफ से महाराष्ट्र में रह रहे लोगों से आग्रह किया गया के वे पटाखे न फोड़ें. लेकिन नागरिक निकाय, बृहन्मुंबई नगर निमम ने शहर में पटाखों को सार्वजनिक स्थानों पर फोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है. साथ हीं बीएमसी ने कहा कि आदेशों का उल्लंघन करने पाए जाने पर जुर्माना भी वसूला जाएगा.

कर्नाटक

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने शुक्रवार को दीपावली के त्योहार और देश में फैली महामारी को देखते हुए एहतियात के तौर पर पटाखों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया. उन्होंने कहा कि हमने इस बाबत चर्चा कर यह फैसला लिया है कि दीपावली पर पटाखों के इस्तेमाल पर बैन लगाया जाएगा. उन्होंने बताया कि उन्होंने कोरोना महामारी के मद्देनजर इस फैसले को लिया है.

पश्चिम बंगाल

कोलकाता में दीपावली का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है लेकिन इस साल इस शहर की दीपावली पटाखे वाली नहीं रहेगी. क्योंकि कलकत्ता उच्च न्यायालय ने कोरोना महामारी के मद्देनजर दिवाली, कालीपूजा, जगद्धात्री पूजा और छठ पूजा के अवसर पर पटाखों की बिक्री को प्रतिबंधित कर दिया है.

राजस्थान

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार के ट्वीट कर कहा कि उनकी सरकार ने कोविड 19 के रोगियों की स्वास्थ्य की रक्षा के लिए और साथ ही पटाखों से निकलने वाले जहरीले धुए से जनता को बचाने के लिए पटाखे की बिक्री और फोड़ने पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा जारी आदेश का उल्लंघन करने पर उक्त व्यक्ति से 2000 रुपये तक का जुर्माना लिया जाएगा.

सिक्किम

सिक्किम सरकार ने भी कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए पटाखों के खरीद और बिक्री साथ ही पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध लगा चुकी है.