Crime Against Women in India: हाथरस गैंगरेप कांड को लेकर देश में आए उबाल के बीच राष्ट्रीय अपराध रिपोर्ट ब्यूरो (NCRB) ने अपनी रिपोर्ट जारी कर दी है. इस रिपोर्ट के मुताबिक देश में 2019 में प्रतिदिन बलात्कार (Rape Cases in India) के औसतन 87 मामले दर्ज हुए और साल भर के दौरान महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 4,05,861 मामले दर्ज हुए जो 2018 की तुलना में सात प्रतिशत अधिक हैं.Also Read - महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर केंद्र सरकार सख्त, MHA ने जारी की नई एडवायजरी

सरकार की ओर से जारी ताजा आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई है. राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के अनुसार देश में 2018 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के 3,78,236 मामले दर्ज हुए. आंकड़ों के अनुसार 2019 में बलात्कार के कुल 32,033 मामले दर्ज हुए जो साल भर के दौरान महिलाओं के विरुद्ध अपराध के कुल मामलों का 7.3 प्रतिशत था. Also Read - वेंकैया नायडू ने महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर जताई चिंता, कहा- वक्त पर न्याय की जरूरत है 

नवीनतम सरकारी आंकड़ों के अनुसार 2019 में भारत में प्रतिदिन हत्या के औसतन 79 मामले दर्ज किए गए. 2019 में हत्या के कुल 28,918 मामले दर्ज किए गए जो 2018 (29,017 मामलों) की अपेक्षा 0.3 प्रतिशत कम है. Also Read - राहुल ने जर्मनी में किया खुलासा, इसलिए लगाया था पीएम मोदी को गले

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इंडियन पीनल कोड के तहत दर्ज इनमें से अधिकतर मामले पति या फिर रिश्तेदारों द्वारा महिलाओं के खिलाफ किए गए अपराध से जुड़े हैं. ऐसे मामलों का प्रतिशत 30.9 फीसदी है. इसके बाद महिलाओं पर सम्मान को ठेस पहुंचाने के इरादे से किए गए हमले जैसे मामले का प्रतिशत 21.8 था. महिलाओं के अपहरण से जुड़े 17.9 फीसदी मामले हैं.

इस रिपोर्ट में न केवल महिलाओं बल्कि बच्चों के खिलाफ भी अपराध में वृद्धि दिख रही है. वर्ष 2018 की तुलना में 2019 में बच्चों के खिलाफ अपराध में 4.5 फीसदी की वृद्धि हुई.