जम्मूः जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ शहर में सोमवार को लगातार पांचवें दिन भी कर्फ्यू जारी रहा. भाजपा के एक वरिष्ठ नेता और उनके भाई की संदिग्ध आतंकवादियों द्वारा हत्या किये जाने के बाद वहां कर्फ्यू लगाया गया था. हालांकि, अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को जिले में दो घंटे और रविवार को चार घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई. किश्तवाड़ के जिला विकास आयुक्त अंग्रेज सिंह राणा ने बताया कि सोमवार को भी कर्फ्यू लागू है और अगर कोई छूट दी जाएगी तो उसके बारे में दिन में निर्णय किया जाएगा. उन्होंने कहा कि कानून और व्यवस्था की स्थिति सामान्य है और जिले में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है.

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोमवार को कहा कि भाजपा के राज्य सचिव अनिल परिहार और उनके भाई अजीत की हत्या में शामिल लोगों की पहचान कर ली गई है. अपनी दुकान बंद कर एक नवंबर को अनिल और अजीत जब घर वापस लौट रहे थे तब बंदूकधारियों ने टप्पल गली इलाके में उन्हें गोली मार दी. इसके बाद किश्तवाड़ और डोडा जिले के कुछ हिस्सों में अनिश्चितकाल के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया था.

शनिवार को किश्तवाड़ जिले के पद्दार और चत्रू उप संभागों में मुख्य शहर और भद्रवाह समेत डोडा जिले से कर्फ्यू हटा दिया गया लेकिन कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए एहतियाती कदम के तौर पर इन इलाकों में सीआरपीसी की धारा 144 लागू है.