नई दिल्ली: जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ‘विशेष बैठक’ से पूर्व शुक्रवार को जर्मन मीडिया से कहा कि कश्मीर में मौजूदा स्थिति ‘‘स्थायी नहीं’’ है और निश्चित ही इसे बदलने की आवश्यकता है. इससे पहले मोदी और मर्केल ने शुकवार को पांचवें भारत-जर्मनी अंतर सरकारी विमर्श (आईजीसी) की सह-अध्यक्षता की.

हालांकि, आईजीसी के दौरान कश्मीर स्थिति पर चर्चा नहीं की गई और सूत्रों के अनुसार, मर्केल को ‘विशेष बैठक’’ के दौरान जम्मू कश्मीर पर मोदी की योजनाओं से अवगत होने का मौका मिल सकता है. जर्मन सूत्रों ने मर्केल के हवाले से कहा, ‘‘चूंकि इस समय कश्मीर में स्थिति स्थायी और अच्छी नहीं है तो इसे निश्चित तौर पर बदलने की आवश्यकता है.’’

जर्मन चांसलर की यह टिप्पणी ऐसे समय में आयी है जब अमेरिका समेत कुछ विदेशी सांसदों ने अगस्त में जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा हटाने के लिए अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद सरकार द्वारा लगायी पाबंदियों पर चिंता जतायी है. इस बीच, प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद मोदी और मर्केल ने शुक्रवार शाम को प्रधानमंत्री के सरकारी आवास पर दोनों पक्षों के चुनिंदा मंत्रियों तथा अधिकारियों की मौजूदगी में मुलाकात की. बैठक में भारत की ओर से विदेश मंत्री एस जयशंकर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल तथा विदेश सचिव विजय गोखले ने भाग लिया.

(इनपुट भाषा)