नई दिल्ली: पूरे देश में लॉकडाउन है और इसका एक अच्छा असर यह देखने को मिला था कि पूरे देश में क्राइम रेट बहुत कम हो गया है. खुद दिल्ली पुलिस कुछ दिनों पहले इस संबंध में आंकड़े जारी किए थे. इसके विपरीत लॉकडाउन में चौबीस घंटें घर में होने और इंटर नेट यूज करने के चलते बहुत से लोग साइबर क्राइम की तरफ बढ़ रहे हैं. दिल्ली पुलिस ने एक ऐसी महिला को गिरफ्तार किया है, जो व्हाट्सएप के जरिये मादक पदार्थ बेचती थी. महिला पेटीएम से भुगतान लेती थी. महिला के ग्राहक होते थे, बिगड़ैल रईसजादे. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, महिला के खिलाफ मुखर्जी नगर थाने में मामला दर्ज किया गया है. Also Read - वर्क फ्रॉम होम: 'बॉस' रात में करते हैं VIDEO CALL, कम कपड़ों में करते हैं मीटिंग, परेशान हैं महिलाएं

45 साल की यह हाई प्रोफाइल ड्रग सप्लायर महिला राजौरी गार्डन इलाके की रहने वाली है. मादक पदार्थ तस्करी के लिए महिला ने बाकायदा एक व्हाट्सएप ग्रुप बना रखा था. Also Read - धरना दे रहे BJP नेता हिरासत में, दिल्ली सरकार से मांग रहे थे विज्ञापनों का हिसाब

इस ग्रुप में अधिकांश रहीस परिवारों को नाबालिग जुड़े हुए थे. पकड़ी गयी महिला ई-सिगरेट आदि महंगी कीमतों पर बेचा करती थी. दिल्ली पुलिस के मुताबिक अपने आप में लॉकडाउन के दौरान नशीली चीजों की स्मगलिंग का यह अपने आप में पहला अद्भूत मामला पकड़ा गया है. Also Read - सऊदी अरब ने फिर से खोलीं 90 हजार मस्जिदें, मक्का अब भी बंद

महिला को शनिवार को अदालत ने 14 दिन की रिमांड पर भेज दिया. पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार महिला का पति व्यापारी है. वो एक्सपोर्ट का कारोबार करता है. महिला को तब पकड़ा गया जब वो, एक किशोर को नशीली सामग्री डिलीवर करने खुद पहुंची थी. इस बारे में पुलिस अब व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े ग्राहकों से भी पूछताछ कर रही है.