नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच बंगला की खाड़ी में उठे चक्रवात ने लोगों के में एक और दहशत को पैदा कर दिया है. सुपर साइक्लोन अम्फान अब पश्चिम बंगाल के तट के करीब पहुंच चुका है. मौसम विभाग ने जानकारी इस समय अम्फान तूफान लगभग 177 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है. सुपर चक्रवाती तूफान ‘अम्‍फान’ को अभी लगातार विशाखापट्टनम (आंध्र प्रदेश) स्थित डॉप्लर वेदर रडार (डीडब्ल्यूआर) से ट्रैक किया जा रहा है. Also Read - Cyclone West Bengal: अम्फान तूफान की वजह से बेघर हुआ भारतीय फुटबॉलर, खाने तक के पैसे नहीं

आईएमडी कोलकाता ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि लैंड फाल के बाद हो सकता है कि इसकी दिशा बदले और यह उत्तर पूर्व की तरफ जाएगा. उन्होंने कहा कि जब यह पश्चिम बंगाल के तट को क्रॉस करेगा तब इसकी रफ्तार 155 से 165 किमी रह सकती है. उन्होंने कहा कि जब यह तट के करीब होगा तब समुद्र में चार से पांच मीटर तक ऊंची लहरे उठ सकती हैं. Also Read - Cyclone Nisarga: अम्फान के बाद निसर्ग तूफान की दस्तक, अरब सागर में गतिविधियां हो रहीं तेज

भारतीय मौसम विभाग के ने बताया कि चक्रवात सुबह 11.30 बजे दीघा से 125 किमी दूर दक्षिण-पूर्व में केंद्रीत रहा. यह दोपहर बाद जमीन में टकरा सकता है. अधिकारियों ने उम्मीद जताई है कि जब. जमीन में टकराएगा तब मौसम में काफी बदलाव देखाजा सकता है .

एनडीआरएफ के प्रमुख एसएन प्रधान ने कहा कि ओडिशा के तटीय इलाकों के पास हवा की गति बढ़ी है और पारादीप में लगभग 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है. पश्चिम बंगाल में हवा इतनी तेज नहीं है. ओडिशा ने बालासोर और भद्रक और पश्चिम बंगाल से लगभग 1.5 लाख लोगों को निकाला है. 3.3 लाख से अधिक लोगों को निकाला गया है.