Cyclone Nivar Updates: तमिलनाडु-पुडुचेरी के कई इलाकों में भारी तबाही मचाने के बाद अब चक्रवाती तूफान निवार कमजोर पड़ चुका है और अब इसकी रफ्तार कुछ कम हो गई है, लेकिन कुछ इलाकों में इसका कहर अब भी बरकरार है. बुधवार की आधी रात बाद तमिलनाडु और पुदुचेरी में चक्रवाती तूफान निवार समुद्री तट से टकराया, जिसकी वजह से हवा की रफ्तार 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटा रही. समुद्र में ऊंची लहरें उठीं. कई इलाकों में भीषण बारिश हुई और पूरा जीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है. अभी तक चेन्नई, महाबलीपुरम समेत कई शहरों में तेज तूफानी हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है. Also Read - Cyclone Nivar Live: आज रात तमिलनाडु तट से टकराएगा तूफान, चेन्नई से 26 उड़ानें रद्द, 10 प्वाइंट्स में जानिए हालात

पुडुचेरी के सीएम वी.नारायणसामी ने जलभराव क्षेत्रों का जायज़ा लिया. उन्होंने कहा,”#CycloneNivar के कारण 24 घंटे भारी बारिश होने से जगह-जगह जलभराव हुआ है. अब बारिश बंद हो गई है. हमने इस तरह की मूसलाधार बारिश कभी नहीं देखी है. सबसे बड़ी बात यह रही कि किसी की मौत की खबर नहीं आई है.” Also Read - Cyclone Nivar Latest Update: आज तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट से टकराएगा 'निवार', 12 घंटे में ले सकता है भीषण रूप

मौसम विभाग ने बताया कि इस तूफान की कैटेगरी अब ‘बहुत भीषण चक्रवाती तूफान’ से ‘भीषण चक्रवाती तूफान’ हो गई है और इसकी रफ्तार कम हो चुकी है. हालांकि तूफान का खतरा अभी पूरी तरह से टला नहीं है. समुद्र के ऊपर अभी भी चक्रवात के कुछ हिस्से हैं. चेन्नई में तेज हवा चल रही है.

गुरुवार तड़के मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान निवार कमजोर हो गया है और अब यह ‘बहुत भीषण चक्रवाती तूफान’ से ‘भीषण चक्रवाती तूफान’ में तब्दील हो गया है. निवार ने पुडुचेरी के नजदीक तट को पार कर लिया है. इससे पहले बुधवार को तमिलनाडु के महाबलिपुरम में चक्रवात निवार की लैंडफॉल प्रक्रिया के दौरान तेज हवाएं देखने को मिलीं. इसके अलावा, पुडुचेरी में भी तेज़ हवाएं और भारी वर्षा हुई.

मौसम विभाग ने ट्वीट कर बताया कि लैंडफॉल के बाद निवार चक्रवात की गति भी कम हो गई है और अब ये बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान निवार अब एक गंभीर चक्रवाती तूफान में कमजोर हो गया है. निवार तूफान का केंद्र भूमि पर स्थित है. बता दें कि तूफान ने 25 नवंबर की रात 11:30 बजे से 26 नवंबर की रात 2:30 बजे के बीच पुडुचेरी के ममुद्री तट को पार किया. लैंडफॉल के वक्त रात 2.30 बजे तक इस चक्रवात निवार की रफ्तार 100 किलोमीटर प्रति घंटा से 110 किलोमीटर प्रति घंटा रही.

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले छह घंटे में ये चक्रवाती तूफान उत्तर और उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ता रहेगा और आगे जाकर कमजोर पड़ जाएगा. लैंडफॉल के दौरान तमिलनाडु के महाबलीपुरम में तेज रफ्तार के साथ हवाएं चल रही थीं. पिछले 6 घंटे में निवार तूफान 16 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा था.

भारतीय नौसेना ने बुधवार को जहाज, विमान, हेलीकॉप्टर, डाइविंग और आपदा राहत टीमों को स्टैंडबाय पर रखा था. आपदा राहत वस्तुओं के साथ एक भारतीय तटरक्षक पोत को चेन्नई तट पर भी तैनात किया गया है.