Cyclone Tauktae, Maharashta, Gujarat, IMD Weather, Cyclone, Tauktae, Cyclone Tauktae, Daman & Diu, Dadra Nagar Haveli, Goa, News: तौकते बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल, गुजरात तट के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया. चक्रवात तौकते बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है और वह गुजरात तट की ओर बढ़ रहा है. इसके मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) अमित शाह ( Amit Shah) ने चक्रवात तौकते (Cyclone Tauktae) से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए संबंधित राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों, केंद्रीय मंत्रालयों, संबंधित एजेंसियों की तैयारियों के ऑककलन के लिए महाराष्ट्र, गुजरात के मुख्यमंत्रियों, दमन और दीव और दादरा नगर हवेली के प्रशासकों के साथ बैठक की है. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा बयान, 'जुलाई-अगस्त में कोविड-19 टीकाकरण की गति बढ़ाएगी केन्द्र सरकार'

कर्नाटक के 6 ज़िलों में अत्यधिक भारी बारिश, अब तक 4 लोगों की जान गई, 73 गांव प्रभावित
कर्नाटक राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(KSDMA) ने कहा, चक्रवात तौकते की वजह से पिछले 24 घंटों में 6 ज़िलों, 3 तटीय जिलों और 3 मलनाड जिलों में भारी से अत्यधिक भारी बारिश हुई है. अब तक 4 लोगों की जान गई और 73 गांव प्रभावित हुए हैं.

चक्रवात तौकते के के तबाही मचाने के मद्देनजर कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने स्थिति का जायजा लिया
कर्नाटक के तटीय जिलों में चक्रवात ‘तौकते’ के तबाही मचाने के मद्देनजर, राज्य के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने रविवार को जिला प्रभारी मंत्रियों तथा उपायुक्त को प्रभावित जिलों में दौरा करने एवं बचाव तथा राहत कार्य शुरू करने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री के दफ्तर ने एक बयान में कहा कि येदियुरप्पा ने तटीय जिलों के प्रभारी मंत्रियों और उपायुक्तों से रविवार को बात की और स्थिति का जायजा लिया . मुख्यमंत्री ने प्रभारी मंत्रियों और उपायुक्तों से से चक्रवात से प्रभावित इलाकों का दौरा करने और राहत और बचाव कार्य शुरू करने को कहा. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि राज्य सरकार से किसी भी आपात सहायता की जरूरत पड़ने पर संबंधित मंत्रियों या उन्हें फोन किया जाए.

कर्नाटक के आठ जिलों में भारी बारिश हुई
कर्नाटक आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुताबिक, रात में मुख्य तौर पर तटीय और मालनाड जिलो में भारी बारिश हुई है.बयान के मुताबिक, आठ जिलों में भारी बारिश हुई है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने अधिकतर इलाकों में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश की चेतावनी दी है. हालांकि आईएमडी ने कहा कि राज्य में रविवार को तटीय और निकटवर्ती घाट वाले जिलों के अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश हो सकती है.

तौकते से गोवा में भारी बारिश,  तेज हवाओं से  बिजली गुल
चक्रवात ‘तौकते’की वजह से गोवा के कई हिस्सों में रविवार को तेज हवाएं चलीं तथा भारी बारिश हुई, जिस वजह से बिजली के खंभे उखड़ गए और कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई. अधिकारियों ने बताया कि अब तक किसी के भी हताहत होने की खबर नहीं है.

गोवा के ऊर्जा मंत्री नीलेश कैब्राल ने बताया कि तेज हवाएं चलने के कारण बिजली के खंभे उखड़ गए हैं जिस वजह से गोवा के अधिकतर इलाकों में बिजली चली गई है. उन्होंने कहा, बिजली के सैकड़ों खंभे टूट गए हैं. बिजली की आपूर्ति करने वाली 33 केवी की कई हाई टेंशन तारें पेड़ों के गिरने की वजह से प्रभावित हुई हैं.

गोवा में बिजली की आपूर्ति करने वाली लाइनें भी प्रभावित
पड़ोसी महाराष्ट्र से गोवा में बिजली की आपूर्ति करने वाली 220 केवी की लाइनें भी प्रभावित हुई हैं. कैब्राल ने कहा कि ऊर्जा विभाग ने बिजली की आपूर्ति बहाल करने के लिए अपने सभी कर्मियों को तैनात कर दिया है, लेकिन तेज हवाओं के कारण बिजली सेवा बहाल करने के काम में बाधा आ रही है.

गोवा में सड़कें बाधित होने की सैकड़ों कॉल आई
राज्य में दमकल एवं आपात सेवा के निदेशक अशोक मेमन ने बताया कि नियंत्रण कक्ष में पेड़ गिरने और सड़कें बाधित होने की सैकड़ों कॉल आई हैं. मेमन ने कहा, हमारे बल कल रात से सड़कों को साफ कराने और बिजली की लाइनों पर गिरे पड़ों को हटाने के लिए काम कर रहे हैं. राज्य की राजधानी पणजी के पास बमबोलिम में काक्रा गांव में मछुआरों को समंदर से वापस आते हुए देखा गया. एक स्थानीय मछुआरे संजय पेरेरा ने दावा किया कि यह 1994 के बाद से सबसे बदतर चक्रवात है.

महाराष्ट्र के तटों के पास हवा की गति 40-50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है
आईएमडी ने बताया कि दक्षिण महाराष्ट्र-गोवा और इससे सटे हुए कर्नाटक के तटों पर हवा की गति 70-80 से लेकर 90 किलोमीटर प्रतिघंटे तक हो सकती है और 16 मई को उत्तर महाराष्ट्र के तटों के पास हवा की गति 40-50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है. उसने बताया कि वायु की गति महाराष्ट्र के तट पर 17 मई से 18 मई की सुबह तक 65-75 किलोमीटर से लेकर 85 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है.

‘तौकाते’अगले 24 घंटे में तीव्र हो सकता है, सोमवार शाम तक गुजरात के तट पर पहुंचने की संभावना है
अहमदाबाद में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान ‘तौकाते’ अगले 24 घंटे में तीव्र हो सकता है और इसके सोमवार शाम तक गुजरात के तट पर पहुंचने की संभावना है.

आईएमडी ने एक बुलेटिन में बताया कि यह मंगलवार तड़के तक पोरबंदर और भावनगर जिले में महुवा के बीच राज्य के तट को पार सकता है. उसने कहा कि ऊंची लहरों की वजह से कई तटीय जिलों में पानी भरने की आशंका है. बुलेटिन में कहा गया है कि बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान ‘तौकाते’ पिछले छह घंटे के दौरान पूर्वी मध्य अरब सागर से उत्तर की ओर करीब 11 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ा है.

18 मई तक हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने के आसार
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को बताया, “इसके उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और 17 (मई) की शाम तक गुजरात तट पर पहुंचने की बहुत संभावना है और यह 18 मई को तड़के पोरबंदर और (भावनगर जिले में) महुवा के बीच से राज्य के तट को पार करेगा. आईएमडी ने कहा कि उसने गुजरात और दमन एवं दीव के लिए येलो अलर्ट जारी किया है. आईएमडी के चक्रवात चेतावनी प्रभाग के मुताबिक, 18 मई तक हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने के आसार हैं, जबकि कुछ वक्त के लिए हवा की गति 175 किलोमीटर प्रति घंटे तक भी पहुंच सकती हैं.