कश्मीर की प्रसिद्ध डल झील (Dal Lake) और कई अन्य जलाशयों के अधिकांश हिस्सों में गुरुवार को पानी जम गया. इसके साथ-साथ पूरी घाटी में शीतलहर का प्रकोप भी जारी है. वहीं श्रीनगर में बीती रात पिछले 30 वर्षों में सबसे ठंडी रात रही. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 8.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो 30 वर्षों में शहर का सबसे कम तापमान है.Also Read - Weather Report: दिल्ली NCR में रिकॉर्डतोड़ बारिश और पहाड़ों पर झमाझम बर्फबारी से पारा लुढ़का, जानें अपने राज्य में मौसम का हाल

उन्होंने बताया कि 1995 में श्रीनगर में तापमान शून्य से नीचे 8.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जबकि 1991 में तापमान शून्य से नीचे 11.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. श्रीनगर में अब तक का सबसे कम तापमान 1893 में शून्य से 14.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था. घाटी के बाकी हिस्सों में भी ठंड काफी बढ़ रही है. Also Read - जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, दो को मार गिराया

दक्षिण कश्मीर में वार्षिक अमरनाथ यात्रा के लिए एक आधार शिविर के रूप में कार्य करने वाले पहलगाम पर्यटन रिसॉर्ट में न्यूनतम तापमान शून्य से 11.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. यह रिसॉर्ट जम्मू-कश्मीर में सबसे ठंडा स्थान रहा. गुलमर्ग पर्यटक स्थल में न्यूनतम तापमान शून्य से 7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. Also Read - Weather Report Today: दिल्ली NCR में बारिश ने बढ़ाई ठिठुरन, पूरे उत्तर भारत में जारी है ठंड का प्रकोप

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में न्यूनतम तापमान शून्य से 6.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि दक्षिण में कोकेरनाग में शून्य से 10.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. भयंकर ठंड के कारण डल झील सहित कई जलाशयों का बहुत बड़ा हिस्सा जम गया. न्यूनतम तापमान में गिरावट से जलापूर्ति पाइपों में पानी जमने लगा है. शहर की कई सड़कों पर बर्फ की मोटी परत बिछी हुई है, जिससे लोगों के लिए गाड़ी चलाना मुश्किल हो गया है. वर्तमान में कश्मीर ‘चिल्लई-कलां’ की चपेट में है.

(इनपुट: भाषा)