दमोह/भोपाल: मध्य प्रदेश के दमोह जिले में अलग-अलग स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने से सात लोगों की मौत हो गई है. इस प्राकृतिक आपदा पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने दुख व्यक्त किया है. प्रशासनिक तौर पर मिली जानकारी के अनुसार, बीते 24 घंटों में दमोह जिले के तेजगढ़ थाना क्षेत्र के लमती गांव में आकाशीय बिजली गिरने से एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई. ये लोग खेत में काम कर रहे थे. वहीं ग्राम दबा में दो लोगों की मौत हुई. इसी तरह सतरिया व कुंवरपुर में भी एक-एक व्यक्ति काल के गाल में समा गया. Also Read - 2015 से था लापता, अब लाहौर की जेल से छूटकर घर पहुंचा अनिल...

प्राकृतिक आपदा पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि दमोह जिले में आकाशीय बिजली गिरने से हुई सात लोगों की आकस्मिक मृत्यु का दु:खद समाचार मिला है. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे दिवंगत आत्माओं को शांति दें और परिजनों को इस वज्रपात को सहने की क्षमता दें. Also Read - Corona Cases in Indore: देश के सबसे साफ शहर इंदौर में तेजी से फैल रहा कोरोना, 24 घंटे में आए इतने मामले

इसी तरह पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है और कहा प्रदेश के दमोह जिले में एक दुखद हादसे में आकाशीय बिजली गिरने से सात लोगों की अकाल मृत्यु होने की जानकारी मिली है. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे दिवंगत आत्माओं को शांति और परिजनों को इस दु:ख को सहने की शक्ति प्रदान करे. Also Read - कमलनाथ और दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश के सबसे बड़े गद्दार हैं: ज्योतिरादित्य सिंधिया