2-deoxy-D-glucose 2 DG पूरी दुनिया कोरोना की वैक्सीन बनाने और बांटने में लगी है इस बीच भारत के DRDO ने कमाल करते हुए कोरोना की दवा बना दी है. जी हां, यही नहीं मोदी सरकार ने इसके आपात इस्तेमाल की मंजूरी भी दे दी है. रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को ये जानकारी दी. रक्षा मंत्रालय ने कहा कि भारत के औषधि महानियंत्रक ने डीआरडीओ द्वारा विकसित कोविडरोधी दवा को आपात इस्तेमाल के लिये मंजूरी दे दी है. Also Read - सरकार ने होईकोर्ट को बताया, 'महाराष्ट्र में 13 हजार से अधिक कैदियों का कोविड-19 टीकाकरण किया गया'

कोविड रोधी दवा 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (drug 2-deoxy-D-glucose या 2-DG) डीआरडीओ द्वारा हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज के साथ मिलकर विकसित की गई है. रक्षा मंत्रालय. डीआरडीओ ने कोविड रोधी दवा 2-डीजी विकसित की है जो पाउडर के रूप में पैकेट में आती है, इसे पानी में घोल कर पीना होता है. Also Read - COVID19 Cases: डेल्‍टा की आशंका के बीच देश में कोरोना के 54,069 नए केस, 1321 मौतों, एक्‍ट‍िव मरीज 6.27 लाख

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि क्लिनिकल परीक्षण में सामने आया है कि 2-डीजी दवा अस्पताल में भर्ती मरीजों के तेजी से ठीक होने में मदद करती है, अतिरिक्त ऑक्सीजन पर निर्भरता कम करती है. डीआरडीओ की 2-डीजी दवा वायरस से संक्रमित कोशिका में जमा हो जाती है और वायरस की वृद्धि को रोकती है. Also Read - COVID-19 Second Wave: ट्रैवेल ऑपरेटरों के लिए कोविड की दूसरी लहर ने पलटाव मार्ग को रोक दिया