मुम्बई: राकांपा नेता अजित पवार ने सोमवार को कहा कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें बुलाया. दरअसल महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के दो हफ्ते बाद भी सरकार गठन की प्रक्रिया अधर में है. राकांपा विधायक दल के नेता अजीत पवार ने यहां संवाददाताओं से कहा कि वह इस बात से अवगत नहीं हैं कि राज्यपाल ने उन्हें क्यों बुलाया है. हालांकि एनसीपी के ही जयंत पाटिल ने कहा, “राज्यपाल कोश्यारी ने सोमवार रात को हमें आमंत्रित किया क्योंकि राकांपा तीसरा सबसे बड़ा दल है.”

पाटिल ने कहा, “प्रक्रिया के अनुसार राज्यपाल ने हमें पत्र दिया है (सरकार बनाने का दावा करने के लिए) क्योंकि हम राज्य में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी हैं. हमने उन्हें सुझाव दिया कि हमें अपने सहयोगियों से बात करनी होगी और हम जल्द से जल्द उनके पास लौटेंगे. समय सीमा कल (मंगलवार) रात 8.30 बजे है.”


शिवसेना द्वारा गैर भाजपा सरकार बनाने के प्रयास को अंतिम समय में झटका लगने के बीच यह प्रगति हुई है. कांग्रेस ने अंतिम समय में घोषणा की कि वह उद्धव ठाकरे नीत पार्टी को समर्थन देने पर राकांपा के साथ और वार्ता करेगी. बाद में संवाददाताओं से राकांपा के प्रमुख प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा ‘‘समझा जाता है’’ कि राज्यपाल ने उनकी पार्टी को इसलिए आमंत्रित किया है क्योंकि 54 सीटों के साथ वह तीसरी सबसे बड़ी पार्टी हैं.