नई दिल्लीः देश में कोरोना वायरस महामारी के बाद आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत की गई थी. इसी कड़ी में देश के हर सेक्टर को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया जा रहा है. ऐसे में भारत चीन सीमा पर लगातार चीन की गुस्ताखी के मद्देनजर भारत सरकार ने बड़ा फैसला किया है. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार के दिन बड़ा ऐलान किया है. राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत ने रक्षा क्षेत्र के 101 के उपकरणों के आयात पर बैन लगा दिया है. Also Read - राजनाथ सिंह का बयान- चीन ने भारत के इतने भू-भाग पर किया है कब्जा, समझौते का लगातार कर रहा उल्लंघन

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रक्षा क्षेत्र में लिए गए फैसलों को लेकर कई ट्वीट किए. इसमें रक्षामंत्री ने बताया कि भारत रक्षाक्षेत्र में आत्मनिर्भर बनेगा और रक्षा क्षेत्र में उत्पादन को बढ़ाया जाएगा. जिन 101 उपकरणों को बैन किया गया है उन्हें भारत में ही बनाया जाएगा. साथ ही घेरेलू रक्षा क्षेत्र की कंपनियों से 52 हजार करोड़ रुपये की खरीद की जाएगी. रक्षामंत्री ने ट्वीट कर बताया रक्षा मंत्रालय को आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत बड़ी सहायता मिलने वाली है. 101 उपकरणों को बैन कर भारत में ही इनका उत्पादन शुरू किया जाएगा. Also Read - LAC को लेकर विपक्ष के साथ बंद कमरे में बात कर सकती है सरकार

उन्होंने कहा कि यह निर्णय भारतीय रक्षा उद्योग को इससे काफी सहायता मिलेगी. इसके जरिए रक्षा उद्योग स्वंय के डिजाइन और क्षमताओं का या फिर DRDO द्वारा डिजाइन और विकसित तकनीकों का इस्तेमाल कर भारतीय सशस्त्र बलों को जरूरतों को पूरा किया जाएगा. बता दें कि बीते काफी दिनों से भारत चीन सीमा विवाद बना हुआ है. ऐसे में भारतीय सेना द्वारा भारी मात्रा में विदेशों से हथियारों की खरीद की जा रही है. ऐसे में भारतीय सेना को तुरंत हथियारों की सप्लाई मिल सके, साथ ही घरेलू रक्षा उद्योगों को बढ़ावा मिल सके इस कारण 101 उपकरणों को बैन कर दिया गया है.