नई दिल्ली: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आठ अक्टूबर को फ्रांस से लड़ाकू विमान राफेल की पहली खेप प्राप्त करेंगे. साथ ही पेरिस में वह शस्त्र पूजा करेंगे. संयोग से उस दिन दशहरा है. भारत में हिन्दू रीति-रिवाज के मुताबिक, दशहरा के दिन योद्धा अपने हथियारों और आयुध की पूजा करते हैं. बता दें कि भारत ने 2016 में फ़्रांस के साथ 58,000 करोड़ में 36 विमानों का सौदा किया था.

 

जानकारी के मुताबिक, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह सात अक्टूबर को फ़्रांस की तीन दिवसीय यात्रा पर राफेल की पहली खेप प्राप्त करने जाएंगे. सिंह की यात्रा के बाद मई 2020 में चार विमान भारत को सौंपे जाएंगे. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस से लड़ाकू विमान राफेल की पहली खेप की डिलीवरी के समय पेरिस में शस्त्र पूजा करेंगे. उसी दिन भारत में दशहरा की पूजा भी होगी. रक्षा अधिकारियों ने बताया कि गृहमंत्री के तौर पर राजनाथ सिंह हर दशहरा पर शस्त्र की पूजा करते थे और अब एक रक्षामंत्री के तौर पर भी वे इसको जारी रखेंगे.

फ्रांस के राष्ट्रपति से भी मिलेंगे राजनाथ सिंह
बता दें कि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस के दौरे पर वहां के राष्ट्रपति इमैन्युअल मैक्रों के साथ बैठक करेंगे. इसके बाद रक्षामंत्री भारत के लिए बनाए गए राफेल लड़ाकू विमान के लिए आगे की बातचीत करेंगे. बता दें कि भारत ने 2016 में फ़्रांस के साथ 58,000 करोड़ में 36 विमानों का सौदा किया था.