नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तीन दिन के दौरे पर चुनावी राज्य कर्नाटक में हैं. सोमवार को उनकी यात्रा का आखिरी दिन है. भ्रष्टाचार के मुद्दे पर राहुल गांधी का हमला जारी है. सौंदत्ती की एक रैली में राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर एक बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया. उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री गोवा में थे, मछली की दुकान में मछली खरीद रहे थे. उन्हें पता भी नहीं था कि मोदीजी ने राफेल का कॉन्ट्रैक्ट बदल दिया. राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में व्यापम स्कैम को लेकर भी हमला बोला और कहा कि बीजेपी के लोगों ने मध्य प्रदेश में व्यापम कराके पूरी शिक्षा व्यवस्था को नष्ट कर दिया.Also Read - Farm Laws News: राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, कृषि कानूनों की वापसी पर बोले- चर्चा से डरती है सरकार

Also Read - मुनव्वर फारुकी के स्टैंडअप कॉमेडी शो को बेंगलुरु पुलिस ने नहीं दी इजाजत, सोशल मीडिया पर वायरल हुई खबर

Also Read - Omicron Latest Update: कर्नाटक में संक्रमित पाए गए दो दक्षिण अफ्रीकी नागरिक, जांच के लिए भेजे गए सैंपल

इससे पहले राहुल गांधी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी जी जो भी करते हैं नीरव मोदी जैसे लोगों के लिए करते हैं, हजारों करोड़ रुपए सबसे अमीर लोगों को देते हैं. मोदी जी ने वादे किए लेकिन एक भी पूरा नहीं किया. हमने जो कहा था करके दिखा दिया. आज कल हजारों करोड़ रुपये उनके पास हैं, मार्केटिंग, टेलीविजन, मीडिया उनके पास है, मगर कर्नाटक में कांग्रेस पार्टी चुनाव जीतने जा रही है क्योंकि हमारे पास गरीबों, किसानों, मजदूरों की शक्ति है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा की पीएम मोदी ने ‘मेक इन इंडिया’, ‘स्टैंड अप इंडिया’, ‘बेटी बचाओ’ जैसी योजनाओं का वादा किया लेकिन इन वादों में से कुछ भी मिला? यूपीए सरकार ने मनरेगा के लिए 35,000 करोड़ खर्च किए. बीजेपी सरकार ने इतनी ही राशि एक टाटा नैनो कारखाने के लिए खर्च किए. राहुल गांधी ने आगे कहा हमारी योजनाएं किसानों और मजदूरों के लिए हैं. बीजेपी की योजनाएं केवल कुछ विशिष्ट अमीर उद्योगपतियों के लिए हैं. मैं, मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और पूरी पार्टी आपके साथ खड़ी होगी और आपके लिए काम करेगी.

यह भी पढ़ेंः चुनावी समर से पहले राहुल गांधी- अमित शाह के बीच लगी मंदिर यात्रा की होड़

आगामी विधानसभा चुनाव से पहले यह राहुल गांधी का दूसरा कर्नाटक दौरा है. अपने पहले टूर के तहत उन्होंने बेल्लारी, कोप्पल, राइचूर, यदगिर, गुलबर्ग और बिदर जिलों का दौरा किया था. इसके अलावा ने कई प्रसिद्ध मंदिरों और धार्मिक स्थलों का भी दौरा किया था.