नई दिल्ली: अरुणाचल प्रदेश में 3 जून को एएन-32 हादसे में मारे गए 13 में से पांच वायु सैनिकों को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को श्रद्धांजलि दी. पालम टेक्नीकल क्षेत्र में आयोजित समारोह में एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ भी उपस्थित थे. गुरुवार को ईस्टर्न एयर कमांड के एयर ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ, एयर मार्शल आर डी माथुर ने जोरहाट में एक श्रद्धांजलि समारोह में वायु सेना के कर्मियों को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद शहीदों के शव को उनके घर भेजा गया.

3 जून को असम से उड़ान भरने के आधे घंटे के अंदर विमान का संपर्क कंट्रोल रूम से टूट गया था और उसके बाद से विमान अरुणाचल प्रदेश की दुर्गम परी पर्वत श्रृंखला में लापता हो गया था. विमान में पायलट सहित कुल 13 लोग सवार थे. हालांकि विमान लापता होने के बाद हाल ही में इसका मलबा नजर आया था और उसके बाद वायुसेना ने दुर्घटना के 18 दिन बाद गुरुवार को छह वायुसेना कर्मियों के शवों और सात के अवशेषों को बरामद किया था. इसके बाद अवशेषों को असम के जोरहाट लाया गया.