नई दिल्‍ली: देश की राजधानी दिल्‍ली में निजामुद्दीन के निजामुद्दीन पश्चिम इलाके में एक धार्मिक समारोह में शामिल हुए लोगों में से 24 लोगों के कोराना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बीच बदरपुर में एक मोहल्‍ला क्‍लीनिक का डॉक्‍टर कोरोना वायरस से संक्रमित मिला है.Also Read - Corona Update: देशभर में पिछले 24 घंटे में 2.50 लाख से ज्यादा नए मामले, 3.47 लाख ने संक्रमण को मात दी

बदरपुर इलाके की इस मोहल्‍ला क्‍ल‍िनिक में 12 मार्च से 20 मार्च के बीच आने वाले मरीजों को 15 दिनों के लिए सेल्‍फ क्‍वारंटीन के लिए कहा गया है. मोहल्‍ला क्‍लीनिक में आने वाले मरीजों के संक्रमण की संख्‍या बढ़ने की आशंका गहरा गई है. Also Read - Omicron in India: विशेषज्ञ बोले - देश में जल्द खत्म होगी तीसरी लहर, साथ ही दी यह हिदायत

Also Read - Vaccine नहीं लगवाने वाले लोग कोरोना की तीसरी लहर में ज्यादा प्रभावित, मृत्यु भी ज्यादा

बता दें दिल्ली के निजामुद्दीन पश्चिम में एक धार्मिक समारोह में शामिल हुए लोगों में से 24 लोगों के कोराना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. वहीं, निज़ामुद्दीन की मर्कज इमारत से प्रशासन लोगों को अस्‍पतालों और क्वारंटीन सेंटर्स में भेज गया है. अभी तक लगभग 1034 लोग शिफ्ट हुए हैं. अब तक 334 लोगों अस्पतालों में और 700 quarantine सेंटर्स में बसों द्वारा भेजा गया है. इनमें 24 लोग कोविड 19 से संक्रमित पाए गए हैं.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को बताया कि 1,033 लोगों को विभिन्न स्थानों पर भेजा गया है. मंत्री ने कहा, इस समारोह में शामिल हुए 700 लोगों को पृथक किया गया है और करीब 335 लोग अस्पताल में भर्ती हैं.” जैन ने बताया कि तबलीग-ए-जमात आयोजन में शामिल हुए लोगों की सरकार जांच कर रही है.