नई दिल्ली: रविवार 16 फरवरी को होने वाले अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के सीएम पद के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान ‘‘दिल्ली निर्माण’’ के लिए जिम्मेदार रहे विभिन्न क्षेत्रों से करीब 50 लोग मंच साझा करेंगे. आप नेता मनीष सिसोदिया ने कहा किउन्होंने कहा कि इन 50 लोगों में शिक्षक, बस मार्शल, सिग्नेचर ब्रिज के वास्तुकार और काम के दौरान अपना जीवन गंवाने वाले दमकल कर्मियों के परिवार एवं अन्य शामिल हैं. Also Read - सीएम केजरीवाल ने दिल्ली में कोरोना के हालातों पर की बैठक, अधिकारियों को दिये ये निर्देश...

आप नेता मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि हमारे लिए ये ख़ास लोग हैं. आम आदमी पार्टी ने इन्हें ख़ास न्यौता भेजा है. इन सभी को मंच पर जगह दी जाएगी. बता दें कि रविवार को आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने जा रहे हैं. ये तीसरा मौका है जब वह शपथ लेंगे. Also Read - क्‍या दिल्‍ली में लगेगा लॉकडाउन? CM केजरीवाल ने कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आज 12 बजे बुलाई मीटिंग

आप की दिल्ली इकाई के संयोजक गोपाल राय इस बारे में पहले ही कह चुके हैं कि अरविंद केरजीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में ‘कोई मुख्यमंत्री या अन्य राज्यों के किसी नेता को आमंत्रित नहीं किया जाएगा, यह केवल दिल्ली तक सीमित रहेगा.’ उन्होंने कहा था कि केजरीवाल दिल्ली के लोगों के बीच शपथ लेंगे, जिन्होंने उनके नेतृत्व में एक बार फिर विश्वास दिखाया है. Also Read - Delhi Lockdown News: क्या दिल्ली में भी लगेगा लॉकडाउन? कोरोना संकट पर CM केजरीवाल की बैठक आज

गौरतलब है कि अन्ना आंदोलन के बाद से केजरीवाल को आम आदमी की संज्ञा दी गई. हालांकि खुद केजरीवाल भी खुद को आम आदमी ही कहते हैं. पार्टी ने पहली बार दिल्ली विधानसभा चुनावों में 28 सीटें जीती थी. इसके बाद आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस गठबंधन कर सरकार की स्थापना की थी. हालांकि यह सरकार कुछ ही दिन में गिर गई और दोबारा विधानसभा चुनाव कराए गए. इस दौरान अरविंद केजरीवाल की पार्टी ने 70 में 67 सीटों पर जीत हासिल कर रिकॉर्ड कायम कर दिया था. इसके बाद साल 2020 में हुए चुनावों में पार्टी ने 70 में से 62 सीटों पर जीत दर्ज की है. इस बार भी पार्टी ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रही हैं.