Delhi Air pollution: सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली के 36 प्रदूषण निगरानी केंद्रों में से नौ ने शुक्रवार को ‘गंभीर’ वायु गुणवत्ता सूचकांक दर्ज किया है. प्रदूषण निगरानी एजेंसी के अनुसार, उत्तरी दिल्ली के अलीपुर क्षेत्र में एक्यूआई 447 था, जो ‘गंभीर’ श्रेणी में आता है, इसके बाद शदीपुर, वजीरपुर, जहागीरपुरी, मुंडका, पटपड़गंज, आनंद विहार, बवाना, और विवेक विहार का स्थान है.Also Read - Delhi में कोव‍िड प्रत‍िबंधों में छूट, मॉल, सिनेमा, रेस्‍टोरेंट्स 50 फीसदी की क्षमता से संचाल‍ित होंगे

इनके अलावा 26 प्रदूषण निगरानी स्टेशन ने ‘बहुत खराब’ सूचकांक दर्ज किया और एक ने मध्यम एयर क्वालिटी इंडेक्स दर्ज किया. आईएमडी में पर्यावरण निगरानी और अनुसंधान केंद्र के प्रमुख विजय कुमार सोनू ने बताया, “शांत हवा के कारण प्रदूषकों का प्रसार नहीं होता है. हालांकि 26 अक्टूबर से हवा की गति में तेजी आएगी और संभवत एक्यूआई में सुधार होगा.” Also Read - Shahdara Case: दिल्ली में महिला से कथित गैंगरेप मामले में 4 हिरासत में, DCW का पुलिस को नोटिस

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के तत्वावधान में आने वाली सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च ने यह भी कहा कि दिल्ली में वायुगुणवत्ता खराब होने का सबसे प्रमुख कारक बेहद शांत सतही वायु है. पूवार्नुमान एजेंसी ने आगे कहा, “अत्यधिक शांत सतही हवा की स्थिति दिल्ली क्षेत्र पर हावी है और अगले दो दिनों तक इसके जारी रहने का अनुमान है. इससे कम वेंटिलेशन की स्थिति बनेगी. अगले 2 दिनों के लिए एक्यूआई के और बिगड़ने की भविष्यवाणी की गई है.” Also Read - पाकिस्तान ने अब लाहौर में बढ़ते प्रदूषण के लिए भी भारत को जिम्मेदार ठहराया

(इनपुट आईएएनएस)