नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि आठ फरवरी को होने वाला दिल्ली विधानसभा का चुनाव देश का आंतरिक मामला है और इसको लेकर ‘आतंकवाद के सबसे बड़े प्रायोजकों’ का कोई हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. पाकिस्तान के संघीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी के एक ट्वीट के जवाब में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि नरेंद्र मोदी उनके भी प्रधानमंत्री हैं.

केजरीवाल ने लिखा, “नरेंद्र मोदी जी भारत के प्रधानमंत्री हैं. मेरे भी प्रधानमंत्री हैं. दिल्ली का चुनाव भारत का आंतरिक मसला है और हमें आतंकवाद के सबसे बड़े प्रायोजकों (पाकिस्तान) का हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं. पाकिस्तान जितनी कोशिश कर ले, इस देश की एकता पर प्रहार नहीं कर सकता.” बता दें कि हुसैन ने कहा था कि भारत के लोगों को चाहिए कि वे ‘मोदी के पागलपन’ को जरूर हराएं.

उन्होंने कहा, “एक और राज्य विधानसभा चुनाव (आठ फरवरी को दिल्ली) हारने के डर से वह (प्रधानमंत्री मोदी) खतरे वाले क्षेत्रों को लेकर हास्यास्पद दावे करते हैं. कश्मीर, नागरिकता कानूनों और असफल अर्थव्यवस्था को लेकर आंतरिक व बाहरी प्रतिक्रिया के बाद श्री मोदी ने संतुलन खो दिया है.” गौरतलब है कि दिल्ली में आठ फरवरी को विधानसभा चुनाव होने हैं.