नई दिल्ली: Delhi Assembly polls दिल्ली में विधानसभा चुनावों की घोषणा हो चुकी है. 8 फरवरी को दिल्ली की सभी 70 सीटों के लिए एक ही दिन में वोट डाले जाएंगे. इस दौरान 80 साल से ज्यादा की उम्र वाले बुजुर्गों, दिव्यांग मतदाताओं की सहूलियत के लिए एक नई व्यवस्था की गई है. इसके लिए उन्हें मतदान केंद्रों पर जाकर वोट डालने की जरूरत नहीं पडेगी. Also Read - West Bengal Assembly Election 2021: बंगाल में रैलियों-जनसभाओं का समय घटा, तीन दिन पहले खत्म होगा प्रचार

Delhi Assembly Elections 2020: नहीं है दिल्ली का वोटर आईडी, तो भी कर सकते हैं मतदान, यह है तरीका Also Read - चुनावी रैलियों में कोरोना संक्रमण को बड़ा खतरा, चुनाव आयोग ने फिर बुलाई सर्वदलीय बैठक

दिल्ली के मुख्य चुनाव आयुक्त रणबीर सिंह ने बताया कि इसके लिए फॉर्म 12डी को 14 जनवरी से 19 जनवरी के बीच भरकर जमा कराना होगा. इन सभी मतदाताओं की सुविधा के लिए चुनाव आयोग पोस्टल बैलेट से मतदान कराएगा. उन्होंने कहा, अनुपस्थित मतदाता एएसडी (अनुपस्थित / स्थानांतरित / मृत) मतदाताओं से अलग होते हैं. पीडब्ल्यूडी और वरिष्ठ नागरिकों को अनुपस्थित मतदाता माना जाएगा. Also Read - Bihar Panchayat Chunav 2021: EVM Model पर तकरार के बाद बन गई बात! बिहार में जल्द होंगे पंचायत चुनाव

सिंह ने कहा कि पोल पैनल ने वॉलंटियर्स की मोबाइल टीमों का भी गठन किया है. रिक्वेस्ट मिलने के तुरंत बाद यह टीम वोटर के घर पर जाएगी उनके लिए पोस्टल बैलेट मतदान की सुविधा प्रदान करेगी. सिंह ने यह भी बताया कि पीडब्ल्यूडी और वरिष्ठ नागरिकों को रैंप, व्हीलचेयर, पिकअर और ड्रॉप, साइन लेंगवेज वॉलंटियर्स और ब्रेल वोटर्स फोटो स्लिप जैसी सभी सुविधाएं मतदान केंद्रों पर दी जाएंगी.